Wednesday , 16 October 2019
Breaking News

पत्नी को रोकने के लिए की थी एयरपोर्ट में बम की झूठी कॉल, धरा गया

नई दिल्ली, 17 अगस्त (उदयपुर किरण). दक्षिण पश्चिम स्थित आईजीआई एयरपोर्ट को आठ अगस्त को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले एक व्यक्ति को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया है.

स्पेशल सेल के अनुसार गत आठ अगस्त को एक कॉल आई कि एयरपोर्ट में बम है. आगे कॉलर ने कहा कि एक महिला जो पति को छोड़ खाड़ी देश में नौकरी करने जा रही है, ये फिदायीन आतंकी है. कॉल सुनते ही सुरक्षा के मद्देनजर पूरे एयरपोर्ट पर चेकिंग शुरू हुई. इधर सूचना मिलते ही स्पेशल सेल व जांच एजेंसी मौके पर पहुंचीं. करीब छह घंटे की जांच के बाद उन्हें एयरपोर्ट पर कुछ नहीं मिला और न ही कोई फिदायीन आतंकी मिला. इधर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कॉल की जांच की तो पता चला यह कॉल किसी और ने नहीं, उसी महिला के पति ने किया था.

  CM की स्वरूपानंद सरस्वती से बंद कमरे में मुलाकात

कॉलर में महिला का नाम भी बताया

स्पेशल सेल के अनुसार बीते आठ अगस्त को डायल के कॉल सेंटर में यह कॉल मिली. कॉलर ने बताया कि एयरपोर्ट पर फिदायीन हमला होने वाला है. साथ ही यह बताया कि एक महिला राफिया उर्फ जमीना दुबई या सऊदी अरब की फ्लाइट से जायेगी. वह फिदायीन आतंकी है और एयरपोर्ट पर कुछ बड़ा करने वाली है. कॉल मिलते ही दिल्ली पुलिस, सीआईएसएफ, स्पेशल सेल और खुफिया विभाग हरकत में आ गये. पूरे एयरपोर्ट की तलाशी ली गई. महिला के पास से भी कुछ संदिग्ध नहीं मिला.

  वियतनाम का यह ड्रैगन ब्रिज 2185 फीट लंबा है, इसे रात में देखने आते हैं सैलानी

गुरुग्राम स्थित कॉल सेंटर से आई थी कॉल

इधर स्वतंत्रता दिवस से कुछ दिन पहले आई इस कॉल ने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी. जांच में पता चला ये कॉल डायल के गुरुग्राम स्थित कॉल सेंटर में आई थी, इसलिए गुरुग्राम के उद्योग विहार थाने में इस बाबत केस दर्ज किया गया. मामले की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इसकी जांच शुरू की और टेक्निकल सर्विलांस की मदद से पुलिस ने शुक्रवार को बवाना से आरोपित नसीरुद्दीन (29) को गिरफ्तार कर लिया.

  चालान बनाने की बात पर उखड़े पूर्वज देवता

पत्नी को रोकने के लिए की थी कॉल

पुलिस पूछताछ में आरोपित ने पुलिस को बताया कि वो चेन्नई में एक बैग बनाने की फैक्टरी चलाता है. उसने फैक्टरी में काम करने वाली राफिया उर्फ जबीना से शादी की थी. वह राफिया से बेहद प्यार करता है. अब वो उसे छोड़कर खाड़ी देश में नौकरी करने जा रही थी. उसने राफिया को समझाने का काफी प्रयास भी किया लेकिन वह नहीं मानी. इसलिए उसने डायल के कॉल सेंटर में फोन कर उसके फिदायीन आतंकी होने की कॉल की. उसे ऐसा लगा कि उसकी कॉल से राफिया को फ्लाइट में जाने से रोक दिया जाएगा.

 

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News