बेंगलुरू मेट्रो के चरण-2 का उद्घाटन, तेज आवागमन और स्मार्ट मोबिलिटी विकल्पों को सक्षम बनाने के लिए बेंगलुरू मिशन 2022 के लक्ष्यों की दिशा में उठाया कदम


नई दिल्ली (New Delhi) . आवासन और शहरी कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी, केन्द्रीय रसायन मंत्री सदानंद गौड़ा और कर्नाटक (Karnataka) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) बी. एस. येदियुरप्पा ने येलाचेनाहल्ली से सिल्क इंस्टीट्यूट मेट्रो स्टेशनों तक ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर नम्मा मेट्रो के चरण-2 के अंतर्गत 6 किलोमीटर लंबी दक्षिणी विस्तार लाइन का शुभारम्भ किया. मेट्रो विस्तार लाइन और एफओबी का उद्घाटन आज शहर में तेज आवागमन और स्मार्ट मोबिलिटी के विकल्पों को सक्षम बनाने के लिए बेंगलुरू (Bengaluru) मिशन, 2022 के लक्ष्यों की दिशा में एक कदम है.

  घट सकती हैं पेट्रोल और डीजल की कीमतें, उत्पाद शुल्क में कटौती करने पर विचार कर रही सरकार

बेंगलुरू (Bengaluru) मेट्रो रेल परियोजना चरण-2 के तहत 74 किलोमीटर लंबे रूट पर 62 स्टेशन आते हैं और इसमें चारों दिशाओं में कुल 34 किलोमीटर में चरण-1 की बैंगनी और हरी दोनों लाइनों का विस्तार और दो नई लाइनें शामिल हैं. इन दो लाइनों में 21 किलोमीटर लंबा गोतीगेरे-नागावाड़ा रूट और 19 किलोमीटर लंबा आरवी रोड- बोम्मासैंड्रा रूट शामिल है. इस परियोजना को 30,695 करोड़ रु की लागत से पूरा किया जा रहा है.

  महाराष्ट्र में बिजली विभाग पर साइबर हमले की बात सामने आने के बाद राजनीति गर्मायी

वर्तमान में परिचालन लाइन पर येलाचेनाहल्ली मेट्रो स्टेशन से आगे 5 नए स्टेशन शामिल हैं, जिनके नाम हैं- कोननकुंटे क्रॉस, दोदोकल्लासैंड्र, वाजारहल्ली, थालाघट्टापुरा और सिल्क इंस्टीट्यूट. वर्तमान में परिचालित 24.2 किलोमीटर लंबी हरी (उत्तर-दक्षिण) लाइन के दक्षिणी किनारे पर 6 किलोमीटर लंबी एलिवेटेड मेट्रो शामिल है. इस विस्तार के साथ, एन-एस कॉरिडोर 30.2 किलोमीटर लंबा हो जाएगा. एलिवेटेड भाग में 213 स्पैन (पुल) शामिल हैं. इस काम में सुपरस्ट्रक्चर के लिए 1032 पाइल, 223 पियर्स और 1998 सेगमेंट व स्टेशनों में 665 गिरडर शामिल हैं. इसमें 2,10,965 कम कंक्रीट और 20,500 मीट्रिक टन स्टील इस्तेमाल किए हैं.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *