Wednesday , 16 October 2019
Breaking News

चंबल नदी का बढ़ा जल स्‍तर, ग्रामीणों को नदी से दूरी बनाने की सलाह

श्योपुर, 17 अगस्त (उदयपुर किरण). मंदसौर जिले के गांधी सागर और राजस्थान के कोटा बेराज से चंबल नदी में छोड़े गया पानी श्योपुर जिले की सीमा में खतरे के निशान पर चल रहा है. जिले की सीमा स्थित राजस्थान के बार्डर पर बने पाली पुल पर पानी का लेवल 198.36 पहुंच गया है. जिला प्रशासन द्वारा चंबल नदी के किनारे बसे ग्रामीणों को नदी के पानी से सुरक्षित दूरी बनाने की सलाह दी गई है. साथ ही ग्रामवासियों को नदी के पानी से सतर्क एवं सावधान रहने की अपील की है.

जनसंपर्क विभाग के सहायक संचालक जे.पी राठौर ने शनिवार को बताया कि जिला कलेक्टर बसंत कुर्रे के निर्देशन में जिला पंचायत के सीईओ हर्ष सिंह चंबल एवं पार्वती नदी के जलभराव पर निगरानी रख रहे हैं. साथ ही चंबल एवं पार्वती नदी के तटीय बार्डर स्थित कुहांजापुर, जलालपुरा, सामरसा पर चेकिंग पाईंट लगा दिये गये हैं. इसी प्रकार प्रशासन और पुलिस के अधिकारी, कर्मचारी तैनात किए जाकर सतत् निगरानी कर रहे हैं. साथ ही होमगार्ड के सैनिक नाव, ट्यूब, रस्सी आदि के माध्यम से सतर्कता बरत रहे हैं. इसी प्रकार चंबल और पार्वती नदी में अधिक जलभराव को देखते हुये सीमावर्ती क्षेत्र के ग्रामवासियों को अलर्ट जारी कर दिया गया है.

  दाे बच्चों को पानी की टंकी में फेंक मां ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

इसी प्रकार एसडीएम श्योपुर रूपेश उपाध्याय, कराहल डॉ. युनूस कुर्रेशी एवं विजयपुर सौरव मिश्रा तथा क्षेत्रीय तहसीलदार, नायब तहसीलदारों को निर्देश जारी किये गये हैं कि अपने-अपने क्षेत्र में चंबल नदी एवं अन्य नदियों में पानी के उफान पर सतत् निगरानी रखें. इसके अलावा ग्राम पंचायत सचिव, पटवारी, कोटवार, नदियों के तटीय क्षेत्रों की लाउडस्पीकर एवं अन्य माध्यमों से नदियों में बढ़ने वाले जलस्तर की सूचना के लिए मुनादी कराई जा रही है. आवश्यकता होने पर बाढ़ की संभावना वाले क्षेत्रों में आने वाले व्यक्तियों के लिये सुरक्षित स्थानों पर शिविरों का आयोजन कर मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध की गई है.

  ब्वायफ्रेंड ने प्रेमिका की शादीशुदा बड़ी बहन से दुष्कर्म किया, गिरफ्तार

जिला पंचायत सीईओ हर्ष सिंह ने बताया कि चंबल नदी पर स्थित गांधी सागर एवं राजस्थान के कोटा बेराज से पानी छोड़ने की संभावना को ध्यान में रखते हुये श्योपुर जिले में चंबल, पार्वती सहित अन्य नदियों के पाईटों पर क्षेत्रीय गावों में अलर्ट जारी किया जा चुका है. वर्तमान में चंबल नदी खतरे के निशान के करीब है. पार्वती नदी में जलस्तर कम हुआ है. इसी प्रकार जिले की तहसील कराहल, विजयपुर, वीरपुर के क्षेत्र की नदियों में पानी बढ़ने की संभावना को दृष्टिगत रखते हुए राजस्व, ग्रामीण विकास और पुलिस के अधिकारी सतत् निगरानी रख रहे हैं.

  फेसबुक पर हुई थी युवक से जान-पहचान, नाैकरी दिलाने का झांसा देकर दुष्कर्म किया

उन्‍होंने बताया कि जारी अलर्ट के अनुसार क्षेत्रीय ग्रामीणों को पानी में नहीं जाने की सलाह भी दी जा रही है. साथ ही चंबल, पार्वती नदी के किराने बसे ग्रामवासियों को सावधानी बरतने एवं पानी के बहाव को ध्यान में रखते हुये सावधानी बरतने की सलाह ग्राम पंचायत सचिव, पटवारी, कोटवार दे रहे हैं. गौरतलब है कि शुक्रवार को चंबल नदी के किनारे बसे दांतरदा गांव के 8 एवं सूंडी गांव के 11 व्यक्तियों को होमगार्ड की टीम द्वारा सुरक्षित निकाला गया था.

 

 

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News