भारत के पास डेवलपमेंट का जबरदस्त मौका: जॉन

नई दिल्ली (New Delhi) . अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के दूत जॉन कैरी भारत के दो दिवसीय दौरे पर दिल्ली आए. उन्होंने क्लाइमेट चेंज के मुद्दे पर पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि भारत के विकास के लिए इस समय जैसे हालात हैं. वैसे उस समय नहीं थे जब अमेरिका विकासशील देश था. जैसे वैज्ञानिक और तकनीकी सुविधाएं आज के समय है, ये दशकों पहले नहीं थीं. भारत के पास अमेरिका जैसा दोस्त है. हम भारत की मदद के लिए हमेशा तैयार हैं. उन्होंने कहा कि भारत में तेजी से सुधार हो रहे हैं. लाखों गरीबों को गरीबी से उबारा जा रहा है.

कैरी ने कहा कि दूसरे देशों के साथ मिलकर भारत जो कड़े निर्णय ले रहा है. इसका फायदा आने वाली पीढिय़ों को मिलेगा. अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत का रोल काफी अहम है. कोरोना महामारी (Epidemic) के बीच भारत ने दूसरे देशों को वैक्सीन डिलीवरी कर ये साबित किया है. यहां जलवायु परिवर्तन के सुधार को देखते हुए जो काम किए गए हैं, वे काबिल-ए-तारीफ हैं. भारत इस समय दुनिया का निर्विवाद लीडर है.

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सोलर संधि पर भारत ने काफी मेहनत की है. इसका फायदा दूसरे विकासशील देशों को भी मिला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने 2030 तक 450 गीगावॉट क्लीन एनर्जी के उत्पादन का लक्ष्य रखा है. उनका ये टारगेट दिखाता है कि वे पर्यावरण को लेकर कितने चिंतित हैं. इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी की स्पेशल रिपोर्ट में भारत को 2040 तक सोलर एनर्जी के क्षेत्र में ग्लोबल मार्केट बतया गया है. दुनिया के बाकी देशों के मुकाबले भारत सबसे कम कीमत में सोलर एनर्जी की सप्लाई कर रहा है.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *