Thursday , 28 January 2021

भारत प्रेमी ब्रिटिश नागरिक ने एक नहीं 4 बार मौत को मात दी

जोधपुर (Jodhpur) . सात समंदर पार ब्रिटेन एक मेहमान राजस्थानी कारीगरों का मददगार बन जोधपुर (Jodhpur) आया था. लेकिन उसे पता नहीं था वह यहां आकर बार-बार मौत के मुंह में जाकर वापस लौट आयेगा. यहां आने के बाद डेंगू, मलेरिया और कोरोना संक्रमण ने उसे अपनी चपेट में ले लिया. लेकिन उसने चिकित्सकों की मदद और अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से सबको मात दे दी. इन सबसे जूझकर जब वह अस्पताल से बाहर निकला तो जहरीले कोबरा सांप ने उसे डस कर फिर अस्पताल पहुंचा दिया. यहां भी विदेशी मेहमान की हिम्मत और किस्मत ने फिर साथ दिया और वो फिर से जिंदगी की जंग जीत गया.

  शिक्षण संस्‍थाएं गाँव गोद लेकर करवाएंगे विकास

ब्रिटेन से इयान जॉन्स राजस्थान (Rajasthan)के स्थानीय कारीगरों की मदद करने के लिये जोधपुर (Jodhpur) आये थे. इयान राजस्थानी कारीगरों के बनाए पारंपरिक शिल्प को अपनी चेरिटी संस्था के जरिए ब्रिटेन में बिकवाते हैं. उनका मकसद राजस्थानी कामगारों को आर्थिक तंगी से बाहर निकलना था. यहां आने के बाद इयान जॉन्स को डेंगू ने अपनी चपेट में ले लिया. उन्होंने डेंगू का इलाज करवाया. उसके बाद मलेरिया ने इयान पर अपना शिकंजा कस दिया. इयान इस बीमारी को भी मात देकर स्वस्थ हो गए. उसके बाद इयान कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गये. साथ ही लाकडाउन के कारण वे ब्रिटेन नहीं जा पाए. इयान ने कोरोना को भी हराया और अस्पताल से बाहर निकल आए. हद तो तब हो गई जब एक बार फिर इयान जॉन्स का मौत से सामना हो गया.

  सीएम ने किया रीवा के एसएएफ मैदान पर ध्वजारोहण

इसबार इयान को खतरनाक कोबरा सांप ने डस लिया. उसके बाद इयान फिर जोधपुर (Jodhpur) के मेडिप्ल्स अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हुए. हालाकि दो दिन में ही वो फिर मौत से जीतकर अस्पताल से बाहर आ गए. मेडिप्ल्स अस्पताल के डॉक्टर (doctor) अभिषेक तातेर ने बताया कि इयान को एक गांव में कोबरा सांप ने डस लिया था. जब वो अस्पताल पहुंचे तो उन्हें साफ साफ दिखाई नहीं दे रहा था. साथ ही चलने में भी दिक्कत हो रही थी. लेकिन इलाज के दौरान वे अपने हौंसले से तेजी से रिकवर हुए. चार बार मौत को हराकर इयान जोधपुर (Jodhpur) में चर्चा का विषय बन गए हैं. हर कोई उनकी हिम्मत और किस्मत की चर्चा कर रहा है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *