कर्नाटक हाईकोर्ट ने नित्‍यानंद केस स्‍थानांतरित करने से मना किया


बेंगलुरु. कर्नाटक हाईकोर्ट ने रेप आरोपी नित्‍यानंद केस को रामनगरम जिले से स्‍थानांतरित करने संबंधित याचिका को खारिज कर दिया है. मुख्‍य याचिकाकर्ता लेनिन कुरुप्पन ने ये याचिका दायर की थी.

कुरुप्पन ने पिछले साल हाईकोर्ट का रूख किया था. लेनिन ने सुनवाई में देरी का हवाला देते हुए केस को बेंगलुरु ग्रामीण से बेंगलुरु शहर ट्रांसफर करने की मांग की थी. लेकिन, हाईकोर्ट के जस्टिस बीए पाटिल की अध्यक्षता वाली पीठ ने मुकदमे को खींचने के लिए याचिकाकर्ता को डांट भी लगाई.

  लॉकडाउन: एक सप्ताह में में 33 हजार लोग हिरासत में, 4,881 वाहन जब्त

कुरुप्पन पर उदासीन रवैया का आरोप लगाते हुए न्‍यायमूर्ति पाटिल ने कहा कि भले ही याचिकाकर्ता सुनवाई के दौरान कोर्ट में मौजूद थे. लेकिन जब तक आरोपी सामने नहीं आ गया तब तक वह गवाह के बॉक्‍स में आने से कतराते रहे. अगर वह वाकई न्‍याय चाहते तो ऐसी परिस्थिति में उन्‍हें आगे आना चाहिए. उन्‍हें पक्ष को मजबूत करने के लिए सबूत पेश करना चाहिए.

  कमजोर वैश्विक संकेतों के चलते कच्चे तेल में 5.77 प्रतिशत की गिरावट

Check Also

कर्नाटक बोर्ड के 7वीं और 8वीं के स्टूडेंट्स होंगे बिना परीक्षा के अगली क्लास में प्रमोट

नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना (Corona virus) के बढ़ते मामलों और लॉकडाउन (Lockdown) के …