Thursday , 25 February 2021

मोटेरा में 100वां खेलेंगे इशांत, कुंबले की तरह भारतीय टीम को जीत दिलाना चाहेंगे

अहमदाबाद (Ahmedabad) . टीम इंडिया के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा के पास इंग्लैंड के खिलाफ यहां मोटेरा स्टेडियम में उतरते ही एक नया रिकार्ड बनाने का अवसर है. बुधवार (Wednesday) को शुरु होने वाले दिन-रात के इस टेस्ट में इशांत अगर अंतिम ग्यारह खिलाड़ियों में शामिल किये जाते हैं तो वह अपना सौवां टेस्ट खेलेंगे. इशांत के पहले बतौर भारतीय तेज गेंदबाज केवल पूर्व कप्तान कपिल देव ने ही 100 से अधिक टेस्ट मैच खेले हैं. 2007 में टेस्ट करिअर शुरू होने वाले इशांत ने 80 एकदिवसीय और 14 टी20 अंतरराष्ट्रीय भी खेले हैं हालांकि उन्होंने 2016 के बाद से उन्होंने कोई भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है.

  आगे भी पीसीबी अध्यक्ष बने रहे सकते हैं एहसान मनी

इशांत के पहले टीम इंडिया के पूर्व लेग स्पिनर अनिल कुंबले ने भी इसी मैदान पर अपना 100वां टेस्ट मैच खेला था. तब भारतीय टीम ने श्रीलंका को 259 रन से हराया था. 100वां टेस्ट खेल रहे अनिल कुंबले ने इस मैच में 7 विकेट लिए थे और 50 रन भी बनाए थे. इससे साफ है कि भारतीय खिलाड़ियों के लिए मोटेरा का स्टेडियम भाग्यशाली साबित हुआ है. ऐसे में यदि इशांत मोटेरा में उतरते हैं तो वे भी कुंबले की तरह 100वां टेस्ट मैच जीत के साथ यादगार बनाना चाहेंगे. इशांत के टेस्ट करिअर की बात की जाए तो उन्होंने 99 टेस्ट में 302 विकेट लिए हैं. 11 बार पांच विकेट और एक बार 10 विकेट लेने का कारनामा किया है. उन्होंने टेस्ट में एक अर्धशतक के साथ 736 रन बनाये हैं. वनडे में इशांत ने 80 मैच में 115 विकेट जबकि 14 टी20 में 8 विकेट लिए.

  आईपीएल और टेस्ट श्रृंखला का कार्यक्रम एक साथ होना सही नहीं मानते विलियमसन

टीम इंडिया की ओर से 100 से अधिक खेलने वाले खिलाड़ियों की बात की जाए तो अब तक 10 खिलाड़ियों ने यह रिकार्ड बनाया है. सचिन तेंदुलकर ने सबसे ज्यादा 200 टेस्ट खेले हैं. इसके अलावा राहुल द्रविड़ (163), वीवीएस लक्ष्मण (134), अनिल कुंबले (132), कपिल देव (131), सुनील गावस्कर (125), दिलीप वेंगसरकर (116), सौरव गांगुली (113), हरभजन सिंह (103) और वीरेंद्र सहवाग (103) भी यह कमाल किया है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *