चीन के हुबेई प्रांत से आज हटेगा लॉक डाउन, 90 दिनों से ‘कैद 5 करोड़ लोग आज होंगे रिहा


बीजिंग( ई. वैश्विक महामारी कोरोना (Corona virus) का केंद्र रहे चीन के हुबई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान से अच्छी खबर आई है. चीन ने इस प्रांत में खतरनाक वायरस को फैलने से रोकने में काफी हद तक सफलता पा ली है. इसके मद्देनजर सरकार (Government) ने 25 मार्च से हुबेई में कुछ ढील देने का फैसला किया है. इस प्रांत में 5.6 करोड़ से ज्यादा लोग बीत तीन महीने से अपने घरों में ‘कैदÓ हैं. हालांकि, राजधानी वुहान में लॉक डाउन पहले की तरह जारी रहेगा.

  स्वदेशी परीक्षण किट के उत्पादन में आएगी तेजी, ढाई घंटे के भीतर जांच संभव

अधिकारियों ने बताया कि 8 अप्रैल से वुहान में प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी. हालांकि, विशेषज्ञों ने ढील दिए जाने को लेकर सरकार (Government) को आगाह किया है. हुबेई का वुहान शहर कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है और यहां सबसे अधिक मौतें हुई हैं. शहर की आबादी 1.1 करोड़ है, जहां पिछले साल दिसंबर में कोरोना का पहला पॉजिटिव मामला सामने आया था. इसके बाद 23 जनवरी को पूरे हुबेई प्रांत को लॉक डाउन कर दिया गया था. वुहान में पिछले पांच दिनों के बाद सोमवार (Monday) को कोरोना का नया केस सामने आया.

  चीन से मिला हुआ है WHO, अमेरिकी सांसद का आरोप, कोरोना वायरस से लड़ने में WHO की भूमिका की जांच कराने की भी मांग की

यात्रा प्रतिबंधों में मिलेगी ढील

सरकार बुधवार (Wednesday) से यात्रा प्रतिबंधों में ढील देगी. इसके तहत बुधवार (Wednesday) से शुरू हो रहे ग्रीन हेल्थ कोड के जरिए हुबेई प्रांत के अन्य हिस्सों में रह रहे लोग यात्रा कर सकेंगे. हुबेई स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि वुहान में रह रहे लोग 8 अप्रैल से शहर के बाहर यात्रा कर सकेंगे. नए कोरोना मरीजों की संख्या में आई कमी को देखते हुए यह फैसला लिया गया.

  तकनीक के सहारे होम क्वारंटीन पर रहने वालों की निगरानी करेगी दिल्ली सरकार

अकेले हुबेई में हुई 3160 मौतें

हुबेई प्रांत में सात (सभी वुहान में) और मरीजों की मौत के साथ चीन में मृतकों की संख्या बढ़कर 3277 हो गई. अकेले हुबेई में अब तक 3160 लोंगों की मौत हुई है. मंगलवार (Tuesday) को चीन में 78 नए पॉजिटिव मामलों के साथ कुल संख्या 81.171 पहुंच गई.

Check Also

पैट कमिंस को अभी भी आईपीएल 2020 के होने की उम्मीद

सिडनी . इंडियन प्रीमयर लीग (आईपीएल) के सबसे महंगे खिलाड़ियों में से एक ऑस्ट्रेलिया के …