माशिमं बदलेगा १०वीं.१२वीं के मूल्यांकन का पैटर्न

जबलपुर, 13 जनवरी . माध्यमिक शिक्षा मंडल (एमपी बोर्ड) द्वारा 10वीं.12वीं के एग्जाम के पैटर्न में बदलाव पहले ही बदलाव किया जा चुका है. अब इन कक्षाओं के मूल्यांकन का पैटर्न भी बदले जाने की तैयारी कर ली गई है. इस बार बोर्ड परीक्षाएं भले ही दो माह की देरी से अप्रैल के अंतिम सप्ताह से शुरू होंगी, लेकिन रिजल्ट जल्दी घोषित कर दिया जाएगा. इस बार जिलों में ही आंसरशीटों का वैल्यूएशन होगा और यह वैल्यूएशन एग्जाम शुरू होने के दूसरे दिन से ही शुरू हो जाएगा. इतना ही नहीं वैल्यूएशन के माक्र्स ऑनलाइन मंगाने की भी व्यवस्था की जा रही है. इस बार बोर्ड पुनर्गणना के साथ ही पुनर्मूल्यांकन की भी व्यवस्था करने जा रहा है. ज्ञात हो कि इस बार बोर्ड दो परीक्षा ले रहा है. 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा 30 अप्रैल से शुरू होकर 15 मई तक चलेगी. वहीं, दूसरी परीक्षा एक से 15 जुलाई तक होगी. एमपी बोर्ड द्वारा परीक्षाओं के साथ.साथ मूल्यांकन को भी तेजी से पूरा करने के प्रयास कर रहा है. इसके लिए एक विषय का पेपर होने के बाद दूसरे दिन ही उस विषय की कॉपियां जांचने का काम शुरू कर दिया जाएगा. साथ ही एक.एक विषय का रिजल्ट समन्वयक केन्द्रों से बोर्ड को ऑनलाइन भेजा जाएगा, जिससे विषयवार रिजल्ट भी माशिमं की वेबसाइट पर प्रदर्शित होने लगेंगे. साथ ही विषयवार कॉपियों का परिणाम बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाएगा.

  कोविड टीकाकरण उत्सव के तीसरे दिन 8 हजार 537 व्यक्तियों को लगा टीका

पुनर्मूल्यांकन भी होगा………..

बोर्ड परीक्षा में कम नंबर आने पर स्टूडेंट अपनी आंसरशीट का पुनर्मूल्यांकन भी करा सकेंगे. बोर्ड ने पुनर्मूल्यांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन की व्यवस्था की है. पहले आठ दिन कॉपियों का पुनर्मूल्यांकन कराने पर 100 रुपए फीस देनी होगी. उसके आठ दिन बाद 50 रुपए लगेंगे. उसके बाद कोई शुल्क नहीं लगेगा. अभी तक बोर्ड के विद्यार्थी सिर्फ पुनर्गणना के लिए आवेदन कर पाते थे, लेकिन अब दोनों के लिए आवेदन कर सकेंगे.

  जिला प्रशासन की पहल पर घर-घर पहुंचकर लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है

पहले थी यह व्यवस्था………

आधी परीक्षा हो जाती थीए तब मूल्यांकन कार्य शुरू होता था.
दूसरे जिले में मूल्यांकन होने से परिवहन व्यवस्था में समय लगता था.
अभी तक सिर्फ विद्यार्थी पुनर्गणना करवा सकते थे.
रिजल्ट के लिए करना पड़ता था दो से तीन महीने का इंतजार.

यह होगी नई व्यवस्था…………

परीक्षा के साथ-साथ विषयवार मूल्यांकन होगा. परीक्षा के दूसरे दिन कॉपियों का मूल्यांकन शुरू हो जाएगा.
माशिमं का ट्रांसपोर्टेशन चार्ज बचेगा.
इस बार छात्र (student) पुनर्मूल्यांकन के लिए भी कर सकेंगे आवेदन.
रिजल्ट के लिए नहीं करना होगा ज्यादा इंतजार.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *