प्राइवेट कोविड अस्पतालों में एमडी फिजिशियन नहीं, तो मान्यता होगी समाप्त


उदयपुर (Udaipur). शहर के सभी निजी कोविड अस्पतालों के नोडल अधिकारियों के साथ सोमवार (Monday) को एक अहम बैठक बुलाई गई है. सीएमएचओ कार्यालय में दोपहर दो बजे होने वाली इस बैठक में शहर के निजी मेडिकल कॉलेज को छोड़कर सभी निजी कोविड अधिकृत हॉस्पिटल के नोडल अधिकारियों को बुलाया गया है. सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी ने बताया कि निजी कोविड हॉस्पिटल में इलाज करने के लिए एमडी फिजिशियन डॉक्टर (doctor) स्थायी रूप से नियुक्त होना जरूरी है. यदि किसी अधिकृत प्राइवेट अस्पताल में एमडी फिजिशियन के बिना ही कोविड संक्रमित का इलाज किया जा रहा है, तो संबंधित हॉस्पिटल की मान्यता समाप्त कर दी जाएगी.

  साल 2024 तक सड़क हादसे 50 प्रतिशत कम करने का लक्ष्य: गडकरी

एमडी फिजिशियन होना जरूरी

सीएमएचओ ने बताया कि कोविड का इलाज करने के लिए अधिकृत शहर के सभी निजी अस्पतालों के नोडल अधिकारियों के साथ अस्पताल में कार्यरत एमडी फिजिशियन का भी बैठक में उपस्थित होना जरूरी है. एमडी फिजिशियन का परमानेंट एम्पलॉई होने संबंधित वो सेल्फ डिक्लेरेशन लाना आवश्यक है, जो अस्पताल द्वारा मान्यता लेते समय दिया गया था.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *