ओलंपिक के लिए मानसिक मजबूती जरुरी : रीड


नई दिल्ली (New Delhi). भारतीय हॉकी टीम के मुख्य कोच ग्राहम रीड ने कहा है कि अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक में जीत के लिए भारतीय टीम को मानसिक रुप से मजबूत होना जरुरी है. रीड ने कहा, ‘‘ओलंपिक खेलों की दुनिया की सबसे कठिन प्रतियोगिता होते हैं, इसलिये हर खिलाड़ी को मानसिक रूप से कठिन हालातों के लिए तैयार रहना होता है. ’’ हॉकी इंडिया के एक बयान के अनुसार उन्होंने कहा, ‘‘बतौर खिलाड़ी सबसे बड़ी चुनौती होती है जो काम कर रहे हो, उस पर ध्यान लगाये रखना. पहले मैच में काफी ज्यादा भावनायें होती हैं.

  इंग्लैंड की जीत से भारत और ऑस्‍ट्रेलिया की रैंकिंग को खतरा

जो खिलाड़ी इन भावनाओं को नियंत्रित कर सकता है और रणनीति पर कायम रहता है, वह आगे बना रहता है. ’’ इसके साथ ही खेल के सभी पहलुओं में सुधार करने की जरूरत है, रीड ने टीम को मानसिक रूप से मजबूती हासिल करने पर जोर दिया. उन्होंने कहा, ‘‘अगले इन 12 महीनों में हमारे लिये सबसे बड़ी चुनौती ‘अनिश्चितता को लेकर’ होगी. ऐसी बहुत सारी चीजें होती हैं जो होंगी पर उन पर हमारा नियंत्रण नहीं होगा. हमें सिर्फ उन चीजों के बारे में चिंतित होना चाहिए जिन पर हम नियंत्रण कर सकते हैं.’’ रीड ने कहा, ‘‘हम सिर्फ इस चीज पर नियंत्रण रख सकते हैं कि हम कितनी कड़ी मेहनत करें, कितनी अच्छी तरह हम ट्रेनिंग करें, और हमारा फिटनेस बनी रहे.’

  सेरेना टॉप सीड ओपन से वापसी करेंगी

Check Also

युजवेंद्र चहल ने शेयर कीं रोका सेरिमनी की तस्वीरें, डाक्टर धनश्री वर्मा बनेंगी चहल की जीवन संगिनी

नई दिल्ली (New Delhi). भारतीय स्पिनर युजवेंद्र चहल की शादी पक्की हो गई है. उन्होंने …