नुक्कड़ नाटक कर कोरोना जागरूकता का दिया सन्देश

बिलासपुर (Bilaspur) . लोगों में कोरोना के प्रति जागरूकता बढ़ाने एवं इसके प्रति लापरवाही रोकने के उद्देश से शहर से सटे ग्रामीण क्षेत्रों में आज नुक्कड़ नाटक के माध्यम से कोरोना जागरूकता का सन्देश दिया गया. इस दौरान नाटक कर्मियों ने कोरोना अनुरूप व्यवहार अपनाने की जानकारी दी. “मास्क नहीं तो टोकेंगे कोरोना को रोकेंगे” की थीम पर नुक्कड़ नाटक आयोजित किया गया.

कार्यक्रम का आयोजन स्वास्थ्य विभाग एवं सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के सहयोग से किया गया. इस दौरान गाँव के लोगों को कोरोना अनुरूप व्यवहार अपनाने के लिए नाटक के माध्यम से जानकारी दी गयी साथ ही नुक्कड़ नाटक के माध्यम से कोरोना वैक्सीन से सम्बंधित जानकारी भी साझा की गयी.

  ट्रक ने कार को मारी टक्कर, डिवाइडर से टकराते ही उड़ गए परखच्चे, 2 महिलाओं समेत 4 घायल

इस मौके पर विजौर गांव के निवासी संजू ने कहा, नुक्कड़ नाटक के माध्यम से हमें कोरोना के बारे में काफी जानकारी मिली है. हमारे गाँव में तो कोरोना इतना नहीं फैला है लेकिन हमको नाटक में बताया गया कि हमें इसके बाद भी सावधानी बरतने की आवश्यकता है. साथ ही मास्क और शारीरिक दूरी अपनाने की जरूरत है क्योंकि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है. इसलिए लोगों को यह समझने की जरुरत है कि अभी लापरवाही बरतना न केवल खुद के लिए बल्कि सभी के लिए महंगा पड़ सकता है.‘’

वहीँ इसी गांव की नुक्कड़ नाटक देखने वाली एक महिला लीना लिबर्टी ने कहा, हमें नाटक में बताया गया कि कोविड-19 (Covid-19) का खतरा अभी टला नहीं है इसलिए आज भी सावधानी बरतना उतना ही जरूरी है जितना पहले था. कुछ दिनों में कोविड वैक्सीन भी आ जायेगी लेकिन हमें वैक्सीन आने के बाद भी सभी आवश्यक सावधानियाँ बरतना बहुत जरूरी है- जैसे मास्क पहनना, दो गज की दूरी, हाथ धोना एवं कोरोना का कोई भी लक्षण नजर आते ही शीघ्र जाँच कराना अति आवश्यक है.

  हत्या के मामले में बरी हुए आरोपी की संदिग्ध परिस्थितियों में मिली लाश

कार्यक्रम में ग्रामीणों ने लिया बढ़-चढ़ के हिस्सा

नुक्कड़ नाटक में ग्रामीणों ने मास्क लगाकर एवं शारीरिक दूरी का पालन करते हुए बढ़-चढ़ के हिस्सा लिया. साथ ही उन्होंने इस दौरान कोरोना अनुरूप व्यवहार पर पूछे जाने वाले प्रश्नों का उत्तर भी दिया. नाटक कर्मियों द्वारा द्वारा गीत गाकर भी कोरोना से बचने के संदेश दिये गए साथ ही नारों के माध्यम से भी कोरोना से बचने की जानकारी दी गई.

  छत्तीसगढ़ में कोरोना के 607 नए मामले, 10 की मौत

वैक्सीन के बाद भी यह सावधानियां

मास्क जरूर पहनें, साबुन से 40 सेकंड तक हाथ धोएं या सेनेटाइज करें, सार्वजनिक स्थानों पर एक दूसरे से दो गज की दूरी रखें, सार्वजनिक स्थलों पर थूकने से पूरी तरह से बचें, कोरोना के लक्षण दिखने पर खुद को आइसोलेट करते हुए जल्द से जल्द जाँच जरूर करवाएँ.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *