हिमाचल से मिल्खा सिंह का रहा गहरा नाता, गर्मियों में कसौली में बिताते थे छुट्टियां

कसौली . देश के जाने माने ओलंपिक धावक फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का कोरोना के कारण निधन हो गया है. शुक्रवार (Friday) देर रात साढ़े 11 बजे उन्होंने पीजीआई चंडीगढ़ (Chandigarh) में अंतिम सांस ली. कुछ दिन पहले ही उनकी पत्नी की निधन हो गया था. मिल्खा सिंह का हिमाचल से भी गहरा नाता था. सीएम जयराम ठाकुर ने भी उनके निधन पर शोक जताया. सोलन के कसौली में मिल्‍खा सिंह का बंगला है और अक्‍सर उड़न सिख अपनी पत्‍नी के साथ यहां आते जाते रहे थे. लेकिन कोविड के कारण दोनों के निधन के बाद यह बंगला वीरान हो गया है.

  भारतीय महिला हॉकी टीम ने रचा इतिहास, पहली बार ओलंपिक सेमीफाइनल में पहुंची

मिल्खा सिंह यहां के ऐतिहासिक कसौली क्लब के वह सदस्य भी थे. गर्मियों में कसौली क्लब में होने वाली कसौली वीक में वह भाग लेने आते थे. हालाकिं, कोरोना के बाद वह यहां नहीं आ पाए. मिल्खा सिंह और उनकी पत्नी निर्मल सिंह दोनों ही कसौली में आम मिलनसार स्वभाव के लिए जाने जाते थे. मिल्‍खा सिंह कसौली में एक निजी विश्‍वविद्यालय के कार्यक्रम में युवाओं को भी संबोधित किया था. कसौली में जब भी वह आते थे तो सुबह या शाम को मंकी प्वाइंट की ओर जाने वाली सड़क पर सैर करते थे.

  टोक्यो ओलंपिक के क्वॉर्टर फाइनल में हारे मुक्केबाज सतीश कुमार

मिल्खा सिंह के जीवन पर बनी फिल्म भाग मिल्खा भाग के प्रदर्शित होने के बाद अक्टूबर 2013 में कसौली में आयोजित खुशवंत सिंह लिटफेस्ट में मिल्खा सिंह और फिल्म के निर्देशक राकेश ओमप्रकाश मेहरा ने फिल्म व मिल्खा के जीवन पर चर्चा की थी. मिल्खा सिंह 10 सितंबर 2018 को शूलिनी विवि में आयोजित एक कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि आए थे. मिल्खा सिंह ने एक इनडोर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन किया, जिसे उनके नाम मिल्खा सिंह स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स पर रखा गया है. सीएम जयराम ठाकुर ने लिखा कि प्रसिद्ध धावक फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह जी के निधन का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ. खेल जगत के लिए यह अपूरणीय क्षति है. उनका जीवन खिलाड़ी वर्ग के लिए सदैव प्रेरणादायक रहेगा. ईश्वर दिवंगत आत्मा को श्रीचरणों में स्थान दें, शोकग्रस्त परिवार तथा समर्थकों को संबल प्रदान करें. ॐ शांति!.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *