म्यांमार में खदान धंसकने से 100 से ज्यादा लोगों की मौत

-पुलिस (Police) को कई मजदूरों के मलबे में दबे होने की आशंका

नई दिल्ली (New Delhi). म्यांमार में जेड माइन में भूस्खलन के कारण 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. उत्तरी म्यांमार में भूस्खलन के बाद गुरुवार (Thursday) को कम से कम 100 जेड खनिकों के शवों को निकाला गया. काचिन राज्य में भारी बारिश के बाद हुए हादसे को लेकर म्यांमार फायर सर्विसेज डिपार्टमेंट ने फेसबुक पोस्ट में कहा कि काचिन राज्य के जेड-समृद्ध हापकांत क्षेत्र में मजदूर स्टोन जमा कर रहे थे. जहां खदान खिसकने के कारण हुए भूस्खलन से खनिकों की मौत हो गई. अब तक कुल 113 शव निकाले गए हैं. पुलिस (Police) के मुताबिक हादसे के बाद अभी भी कई मजदूरों के मलबे में दबे होने की आशंका है. राहत एंव बचाव दल शवों को बाहर निकालने का काम कर रहे हैं. हालांकि भारी बारिश के कारण राहत एंव बचाव दल को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा.

  भारत ने पाकिस्तानी राजदूत को लगाई फटकार

गौरतलब है कि हापकांत की खराब विनियमित खदानों में घातक भूस्खलन और अन्य दुर्घटनाएं आम हैं. हादसे के गवाह बने इलाके के 38 वर्षीय मून खैंग ने कहा कि उन्होंने कचरे के ढेर को देखा, जो ढहने की कगार पर था. जब वह एक तस्वीर लेने ही वाले था तब लोग भागने के लिए चिल्लाने लगे. उन्होंने बताया कि एक मिनट के भीतर सब लोग उसके नीचे आ गए. वहां कीचड़ में फंसे लोग मदद के लिए चिल्ला रहे थे, लेकिन कोई उनकी मदद नहीं कर पा रहा था.

  संकल्प शक्ति से भारत कोरोना को हराएगा

Check Also

राष्ट्र के लिए जिएंगे, राष्ट्र के लिए मरेंगे

स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री ने झंडावंदन कर सलामी ली भोपाल . मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान …