Thursday , 21 October 2021

सीबीएसई: अब परीक्षा के लिए छात्रों को विषय रटना नहीं पड़ेगा

सीबीएसई व ब्रिटिश काउंसिल दोनों मिलकर कॉम्पिटेंसी बेस्ड क्वेश्चन पेपर कंटेंट प्रिपरेशन के लिए 18 अक्टूबर से एक कोर्स शुरू करेंगे. इस कोर्स का मुख्य उद्देश्य रोट लर्निंग (रटने की प्रक्रिया) को खत्म करना है. ताकि छात्र (student) विषय को रटें नहीं बल्कि उसे समझें. इस कोर्स में छठी से दसवीं कक्षा तक के साइंस, मैथेमेटिक्स व इंग्लिश पढ़ाने वाले शिक्षक भाग ले सकते हैं.

  वल्र्ड एनेस्थेसिया डे पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

कोर्स में अध्यापकों को ट्रेनिंग दी जाएगी कि वे कैसे छात्रों को किसी विषय को समझने के लिए तैयार करें. इस ट्रेनिंग में टीचर्स को यह बताया जाएगा कि वे परीक्षाओं में ऐसे सवाल तैयार करें जिनके जवाब लिखते समय छात्रों को रटने की जरूरत न पड़े. वे उत्तर को लिखने के लिए संबंधित टॉपिक को समझें. यह कोर्स वर्चुअल मोड में आयोजित होगा. कोर्स में हिस्सा लेने के लिए टीचर्स को सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट पर 15 अक्टूबर तक आ‌वेदन करने होंगे. आवेदन शुल्क फ्री है.

  भार्गव परिवार ने 4 व्हील साइकिल व दो सौ तालियां वेट की, सामाजिक सरोकारो की यह अनूठी पहल
न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *