NSUI की मांग पर गहलोत ने सभी विद्यार्थियों को प्रमोट करने का फैसला लेकर छात्रशक्ति की भावनाओं का रखा ख्याल

उदयपुर (Udaipur). भारतीय राष्ट्रीय छात्र (student) संगठन एनएसयूआई की देशव्यापी सभी छात्रों को प्रमोट करने की मांग को राजस्थान (Rajasthan) सरकार (Government) द्वारा सभी सभी महाविद्यालय, विश्वविद्यालय एवं तकनीकी महाविद्यालय की परीक्षा कोरोना महामारी (Epidemic) को देखते हुए रद्द कर कर उन्हें अगली कक्षा में प्रमोट करने के सरकार (Government) के फैसले का स्वागत किया एवं आपस मे मिठाई खिला कर खुशी जाहिर की. एनएसयूआई प्रदेश महासचिव कुशलेश चौधरी ने बताया कि एनएसयूआई द्वारा पिछले 2 महीनों से लगातार सभी छात्रों को बिना परीक्षा कराए प्रमोट करने की मुहिम चल रही थी राज्य सरकार (Government) का यह फैसला छात्रहितों में लिया गया है.

  हिन्दुस्तान जिंक द्वारा बिछड़ी में नवनिर्मित सामुदायिक भवन एवं बालिका शौचालय का उद्घाटन

जिला प्रवक्ता शक्ति सिंह झाला ने बताया कि मार्च-अप्रेल से ही लोकड़ाऊंन बाद उदयपुर (Udaipur) से एनएसयूआई प्रदेश महासचिव कुशलेश चौधरी,पूर्व अध्यक्ष MLSU अमित पालीवाल,विज्ञान महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष द्वारा मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, उच्चशिक्षामंत्री के नाम विद्यार्थियों को प्रमोट कराने को लेकर पत्र लिखे जा चुके थे. उसके पश्चात भी विश्वविद्यालय में परीक्षा हेतु टाइम टेबल जारी होने के बाद एनएसयूआई प्रदेश महासचिव कुशलेश चौधरी एवं विज्ञान महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष चिराग चौधरी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने उच्चशिक्षामंत्री भवँर सिंह जी भाटी से जयपुर (jaipur) में 2 बार मुलाकात कर छात्रों की मांग से अवगत करवाया तथा ज्ञापन दिया उसके पश्चात उदयपुर (Udaipur) क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों से भी मुख्यमंत्री (Chief Minister) के नाम पत्र लिखवाए तथा एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु पुनिया एवं प्रदेश प्रभारू गुरजोत संधू जी के नेतृत्व में ट्विटर पर #RajasthanNoExamInCovid तथा #जीतेगाछात्रजीतेगा_राजस्थान (Rajasthan) से हेसटेग चलाए गए जिस पर 2 लाख से अधिक छात्रों ने ट्वीट किए तथा नम्बर 1 ट्रेंडिंग पर यह हेसटेग रहे उसके पश्चात पूरे राजस्थान (Rajasthan) में शिर्ष नेतृत्व के निर्देशानुसार सांकेतिक धरना प्रदर्शन के अंतर्गत उदयपुर (Udaipur) में भी मोहनलाल सुखाडिया विश्वविद्यालय प्रसासनिक भवन के बाहर धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया गया तथा कुलपति को ज्ञापन के माध्यम से परीक्षा न करवाने की बात कही तथा कोरोना महामारी (Epidemic) के दौरान फेकने वाले संक्रमण से बचाने एवं छात्रों के भविष्य को सुरक्षित करने की गुहार लगाई गई.

  दुर्लभ नागराज : आंशिक एल्बीनो कोबरा को पहली बार देख चकित हुए सब

Check Also

कलक्टर के निर्देशों पर कलेक्ट्रेट व सीएमएचओ कार्यालय में हुई सेंपलिंग

उदयपुर (Udaipur). जिले में कोरोना से बचाव व नियंत्रण के लिए अधिकाधिक सेंपलिंग लेने व …