बाप की शह पर बेटे ने किया नाबालिग से दुष्कर्म, बाप बेटे ने दी परिवार को मारने की धमकी, एसपी ने दिया मुकदमा दर्ज करने के निर्देश

उदयपुर. जिला पुलिस अधीक्षक कैलाश चंद्र विश्नोई ने पिता की शह पर पुत्र द्वारा नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म करने तथा दुष्कर्म के बाद मारपीट कर भाग जाने के मामले को गंभीर मानकर पुलिस थाना गोवर्धन विलास को तत्काल आपराधिक प्रकरण दर्ज कर ने के आदेश दिए तथा मामले में लिप्त अभियुक्त एवं उसके पिता को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए.

घटना रविवार शाम की है जब एफ ब्लॉक दक्षिण विस्तार सेक्टर 14 निवासी नाबालिग बच्ची अपने घर में अकेली थी और उसकी मां गांव तथा पिता सराडा एवं भाई मजदूरी पर गया हुआ था. इस दौरान कोटा हॉल सेक्टर 14 निवासी रोहित मीणा ने नाबालिक बच्ची को घर में अकेला देख दरवाजा खटखटाया बालिका ने जब दरवाजा खोला तो रोहित मीणा ने धक्का देकर उसे कमरे में धकेल दिया और बाहर उसके पिता खड़े रहे.

  राज्यसभा में रिक्त हो रही है 68 सीटें, कुछ सीटों पर कांग्रेस को हो सकता है नुकसान

इस दौरान अभियुक्त रोहित मीणा ने बालिका के साथ दुष्कर्म किया और उसके कपड़े फाड़ दिए बालिका के चिल्लाने पर अभियुक्त ने उसका मुंह पकड़ लिया और हाथ मरोड़ दिया और बाल पकड़कर उसके साथ लाते कुछ तो से मारपीट की जिससे वह नीचे गिर गई. घर से निकलते वक्त रोहित मीणा ने बालिका को धमकी दी कि अगर यह बात किसी को बताई तो वह और उसके पिता कोटा के रहने वाले हैं उसे उठाकर ले जाएंगे और कहीं भेज देंगे और पूरे परिवार को जान से मार देंगे.

  सूरत से लापता NRI किशोरी मुंबई में फेसबुक फ्रेंड के साथ मिली

बालिका के चिल्लाने के बाद अभी तो उसका पिता मौके से फरार हो गया पड़ोसी गोरी मीणा व अन्य लोगों ने बालिका को संभाला तथा उसके भाई को सूचना दी. बालिका ने बताया कि उसके भाई ने जब गोरधन विलास थाना के बीट कांस्टेबल को फोन करो उस घटना की जानकारी दी तो कॉन्स्टेबल ने मामले की गंभीरता को न करते हुए कहा कि जाता भी चुनाव में लगा हुआ है हम सुबह आएंगे.

बालिका ने बताया कि अभियुक्त लड़का पिछले तीन चार महीनों से लगातार उसका पीछा कर रहा था और अश्लील अश्लील बातें वह हरकतें कर उसे परेशान कर रहा था लड़की ने अभियुक्त रोहित के पिता को जब इसकी हरकतों की जानकारी भी तो अब दुख के पिता ने बेटे को समझाने की जगह बालिका को धमकाया कि उनका बेटा जवान हो गया है चाहे जो कर सकता है वह इज्जत भी लूट सकता है और यह बात किसी को बताई तो वह उसके परिवार को जान से खत्म कर देंगे.

  चार जानवर पालिए, गोबर-गोमूत्र से 20 लाख सालाना कमाइए : गिरिराज

बालिका डरी सहमी रहने के बाद सोमवार को अधिवक्ता हरीश पालीवाल के माध्यम से जिला पुलिस अधीक्षक के समक्ष पेश हुई और उसके साथ घटी घटना के हालात बयान किए. मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक विश्नोई ने गोवर्धन विलास थाना को तत्काल मुकदमा दर्ज कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं.

Check Also

‘खुल जा सिम सिम’ की तर्ज पर हुई सीवीसी और सीआईसी की नियुक्ति: कांग्रेस

नई दिल्ली. कांग्रेस ने संजय कोठारी को मुख्य सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) और बिमल जुल्का को …