पढ़ई तुंहर दुआर कार्यक्रम के तहत किया जा रहा है ऑनलाइन शिक्षा का आंकलन

बिलासपुर (Bilaspur) . कोविड 19 के कारण अप्रैल 2020 से विद्यालयों मे बच्चों को नियमित पढाई नहीं हो पा रही है, विद्यालयों के बंद होने के कारण शासकीय विद्यालयों में पढऩे वाले बच्चों के लिए छ0ग0 शासन स्कूल षिक्षा विभाग द्वारा ‘‘पढ़ई तुंहर दुआर‘‘ पोर्टल के माध्यम से ऑनलाईन कक्षाओं की शुरुआत की गई साथ ही मोबाईल विहिन बच्चों के विविध प्रकार के वैकल्पिक साधनों – पढई तुंहर पारा, मोहल्ला कक्षाएं, लाउड स्पीकर स्कूल और बुल्टू के बोल के द्वारा अध्यापन कराया जा रहा है.

  BIG NEWS आज से महा टीकाकरण...हम हैं तैयार, देशभर में सुबह 9 बजे शुरू होगा वैक्सीनेशन, प्रधानमंत्री करेंगे संबोधित

छत्तीसागढ शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा दिसम्बर से मार्च 2021 तक 100 दिन का कार्ययोजना बनाकर ‘‘इतना तो मेरे बच्चे कर ही सकते है‘‘ के अंतर्गत कक्षा 1ली से 08वीं तक अध्ययनरत बच्चों का आंकलन करने हेतु जिलें में संचालित 1114 प्राथमिक एवं 520 पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में वर्चुअल स्कूल ग्रुप बनाया गया है. वर्चुअल स्कूल ग्रूप में विद्यालयों के समस्त षिक्षक एवं विद्यार्थी जुडे हैं. कक्षावार आंकलन हेतु 02 ग्रुप बनाये गये है. प्रथम ग्रुप कक्षा 1लीं एवं 2री तथा द्वितीय ग्रुप कक्षा 3री से 8वीं तक के विद्यार्थियों का है. जिनके भाषा एवं गणित विषयों का 03 बार आंकलन किया जायेगा. वर्तमान में माह दिसम्बर 2020 का आंकलन किया जा रहा है.

  पुलिस की एक्सपर्ट्स टीम करती रही जांच इधर दो मकानों में हो गई चोरी

जिला शिक्षा अधिकारी अषोक कुमार भार्गव द्वारा आज जिला नोडल अधिकारी, जिला मिषन समन्वयक,विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एवं विकासखण्ड नोडल अधिकारियों की समीक्षा बैठक आयोजित कर गुणवत्तापूर्ण आंकलन एवं मॉनीटरिंग के निर्देष दिये गये. रामेश्वर जायसवाल जिला नोडल अधिकारी द्वारा संकुल, विकासखण्ड एवं जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा किये जाने वाले मॉनीटरिंग की विस्तृत जानकारी दी गई. दूरभाष के माध्यम से बच्चों से सीधे बात कर एवं मोहल्ला कक्षा का भ्रमण कर प्रत्येक अधिकारी द्वारा प्रतिमाह कम से कम 20 बच्चों का आंकलन किया जायेगा. जिसके लिये समस्त अधिकारियों का पढई तुहर दुआर पोर्टल में पंजीयन किया गया है.

  ट्वीटर बाबा, गोबर वाले दाऊ और दारू वाले दादा... छत्तीसगढ़ में नई राजनीतिक चिन्हारी

आज की बैठक में पी.दासरथी, संदीप चोपडे, रामदत्त गौरहा (ए.डी.पी.ओ), ओम पाण्डेय (डी.एम.सी.), अमित श्रीवास्तव, श्रीमती सुनीता पाण्डेय बेदी एवं अंचल विकासखण्ड षिक्षा अधिकारी सहित समस्त विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक एवं सहायक विकासखण्ड षिक्षा अधिकारी उपस्थित थें.

 

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *