Thursday , 21 October 2021

पाक नागरिक को 20 करोड़ डॉलर के फोन धोखाधड़ी मामले में 12 साल की सजा

सिएटल . ‘एटी एंड टी’ के नेटवर्क से फोन को ‘अनलॉक’ करने का षड्यंत्र रचने के मामले में एक पाकिस्तानी नागरिक को 12 साल कारावास की सजा सुनाई गई है. कंपनी का कहना है कि इस षड्यंत्र के कारण कंपनी को 20 करोड़ डॉलर (Dollar) से अधिक का नुकसान हुआ है.

कराची के मोहम्मद फहद (35) को 2012 में फेसबुक के जरिए वाशिंगटन के बॉथल में ‘एटी एंड टी’ के कॉल सेंटर के एक कर्मी के रूप में भर्ती किया गया था, उसने फोन ऑनलाक करने में मदद के लिए कुछ लोगों को रिश्वत दी थी.
इसकी मदद से फोन को एटी एंड टी के नेटवर्क से हटाया जाता था, भले ही उपभोक्ताओं ने इन महंगे उपकरणों के लिए भुगतान पूरा नहीं किया हो या उनके सेवा अनुबंध की अवधि समाप्त नहीं हुई हो. इसके बाद उपभोक्ता अपने फोन के लिए सस्ती सेवा खरीद सकते थे. अभियोजन पक्ष ने बताया कि इसके बाद, फहद ने कंपनी के सॉफ्टवेयर में मालवेयर डलवाया, जिसकी मदद से वह पाकिस्तान से फोन अनलॉक कर सकता था.

  भारतीय सेना ने 13 मुठभेड़ों में 14 आतंकियों का क‍िया सफाया, पाक को लगी मिर्ची

कंपनी ने शुरुआत में इस षड्यंत्र का पता लगने के बाद इसमें शामिल दो कर्मियों को नौकरी से निकाल दिया था, इसके बाद भी फहद ने यह कार्य जारी रखा. फहद ने ऑनलाइन खुदरा विक्रेताओं के माध्यम से अवैध फोन-अनलॉकिंग सेवा बेची और लाखों डॉलर (Dollar) कमाए, जिसकी मदद से उसने विदेशों की महंगी यात्राएं कीं. उसने 2012 से 2017 तक तीन ‘एटी एंड टी’ कर्मचारियों को 9,22,000 डॉलर (Dollar) का भुगतान किया. उसे 2018 में हांगकांग से गिरफ्तार किया गया.

  इम्मा के नाम पर रखा नवजात बेटी का नाम रखा

‘एटी एंड टी’ के फोरेंसिक विश्लेषण में पाया गया कि इस षड्यंत्र के तहत 19 लाख से अधिक फोन अनलॉक किए गए थे. कंपनी को उपभोक्ताओं के भुगतान से पहले अपने नेटवर्क से हटाए गए फोन के कारण 20 करोड़ डॉलर (Dollar) का नुकसान हुआ. इसमें सेवा अनुंबध पूरे नहीं होने के कारण हुआ नुकसान शामिल नहीं है.

  ट्यूनीशिया में नाव पलटने से दो प्रवासियों की मौत, 21 अन्य लापता

फहद को 2019 में अमेरिका प्रत्यर्पित किया गया. उसने एक साल पहले अपना अपराध स्वीकार कर लिया और उसे गुरुवार (Thursday) को सजा सुनाई गई. फहद ने अमेरिकी डिस्ट्रिक्ट जज रॉबर्ट लासनिक को पत्र लिखकर माफी मांगी थी. लासनिक ने फहद को क्षतिपूर्ति के रूप में 20 करोड़ डॉलर (Dollar) से अधिक का भुगतान करने का भी आदेश दिया.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *