FATF से डरा पाकिस्तान, आंतकी हाफिज सईद को 11 साल के लिए जेल में डाला


लाहौर. मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को पाकिस्तान की आतंकवाद रोधी अदालत ने बुधवार को दो मामलों में साढ़े पांच-साढे़ पांच साल कैद की सजा सुनाई. दोनों ही मामलों में साढ़े पांच-साढे़ पांच साल कैद की सजा सुनाई गई है जो साथ-साथ चलेगी. इसके साथ ही कोर्ट ने उस पर 15 हजार का जुर्माना भी लगाया गया है. हाफिज के खिलाफ आतंकी फंडिंग, मनी लॉन्ड्रिंग और अवैध कब्जे के कुल 29 मामले दर्ज हैं.

हाफिज पर यह फैसला उस समय में आया है जब पाकिस्तान पर एफएटीएफ की काली सूची में शामिल होने का खतरा मंडरा रहा है. वहीं,भारत के लिए एक बड़ी जीत है जो पिछले 11 सालों से हाफिज को कानून के कठघरे में खड़ा करने की लड़ाई लड़ रहा है. इधर, पाकिस्तान को डर इस बात का है कि अगर एफएटीएफ की काली सूची में शामिल किया जाता है.

  आईआईटी दिल्ली की पहल, कोविड-19 पर रिसर्च के लिए उपलब्ध होगा सुपर कंप्यूटर

तब उसकी डूब रही अर्थव्यवस्था को उबारना असंभव हो जाएगा. दिसंबर में हाफिज और उसके तीन करीबी सहयोगियों-हाफिज अब्दुल सलाम बिन मुहम्मद, मुहम्मद अशरफ और जफर इकबाल के खिलाफ आरोप तय किए गए थे जिसका अमेरिका ने स्वागत किया था. तब अमेरिका की दक्षिण और मध्य एशिया की कार्यवाहक सहायक विदेश मंत्री एलिस जी वेल्स ने कहा था, ‘हम पाकिस्तान से अपील करते हैं कि वह आतंकवाद के वित्त पोषण को बंद करने और 26/11 जैसे आतंकवादी हमलों के दोषियों को सजा दिलाने के लिए अपने अंतरराष्ट्रीय दायित्वों के अनुसार पूर्ण रूप से मुकदमा चलाए और तेजी से सुनवाई करें.’

  चरणबद्ध तरीके से रोक हटाने पर विचार

गौरतलब है कि आतंकवाद को मुहैया कराए जाने वाले धन की निगरानी करने वाली अंतरराष्ट्रीय निगरानी संस्था वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) ने पाकिस्तान को अपनी ग्रे सूची में डाल रखा है. उसपर काली सूची में जाने का खतरा मंडरा रहा था. पाकिस्तान को चेतावनी दी गई थी कि यदि फरवरी तक आतंकवाद के वित्तपोषण पर नियंत्रण नहीं किया जाता है, तब पाकिस्तान को काली सूची में डाल दिया जाएगा.इसके बाद पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने हाफिज की नकेल कसने शुरू की थी.

  पाकिस्‍तान में चीनी और आटे का संकट : कालाबाजारी में कई प्रमुख राजनीतिक परिवार शामिल

Check Also

पलायन करने वाले मजदूरों के स्वास्थ्य और प्रबंधन के हम एक्सपर्ट नहीं: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली (New Delhi) . सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने मंगलवार (Tuesday) को कहा कि …