कोरोना से मृत 14 महीने का बच्चे का मुंह तक नहीं देख पाए माता-पिता


जामनगर . जामनगर में कोरोना 14 महीने के एक मासूम बच्चे को लील गया. मृत बच्चे का शव दूर से उसके माता-पिता को दिखाया गया और बाद में उसका धार्मिक रीति रिवाज से अंतिम संस्कार कर दिया गया.

जामनगर में परप्रांतीय श्रमिक दंपत्ति के 14 वर्षीय पुत्र की कोरोना से मौत हो गई थी. बच्चे को जब अस्पताल में भर्ती कराया गया था, तब से उसकी हालत काफी नाजुक थी और दो पहले उसके कोरोना संक्रमित होने का पता चला था. जिसके बाद बच्चे को वेन्टीलेटर पर रखा गया था. मंगलवार (Tuesday) को बच्ची की मौत हो गई. माता-पिता के लिए दुर्भाग्य की बात यह थी कि वह अपने बेटे को अंतिम बार जी भरकर देख नहीं सके. दूर से बच्चे का शव उसके माता-पिता को दिखाया गया और धार्मिक रीति रिवाज से पुलिस (Police) सुरक्षा में उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया. गुजरात में कोरोना से अब तक 16 लोगों की मौत चुकी है और उसमें सबसे कम आयु की मौत का यह पहला मामला है.

  शराब पर स्पेशल कोरोना फीस से की 110 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई

Check Also

चीन ने भारत से अपने नागरिकों को वापस बुलाया

नई दिल्‍ली . चीन ने छात्रों, पर्यटकों और उद्योगपतियों सहित सभी नागरिकों को भारत से …