मृतक डीएसपी के घर पर पैट्रौल बम से हमला करने वाला बदमाश राहतगढ के जगलो से गिरफ्तार

(भोपाल (Bhopal) . मृतक डीएसपी गोरेलाल अहिरवार के बेटे के घर पर पेट्रोल (Petrol) बम से हमला करने की सनसनीखेज घटना मे पुलिस (Police) ने फरार कुख्यात बदमाश को घेराबंदी करते हुए राहतगढ़ के जंगलों से घेराबंदी कर दबोच लिया है. बताया यगा है कि वरदात को अंजाम देने के बाद वह भोपाल (Bhopal) छोड़कर फरार हो गया था. डीएसपी की हत्या (Murder) के मामले में गवाही को रुकवाने के साथ ही उनके परिवार वालो को डराने के लिये उसने अपने साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था. बताया गया है कि पकड़े गए बदमाश का दोस्त ही डीएसपी की हत्या (Murder) का मुख्य आरोपी है, और उसे जेल से बाहर निकालने के लिए उसने पूरी साजिश रची थी.

  कर्नाटक में सेक्स फॉर जॉब स्कैंडल : भाजपा के मंत्री ने सीडी सामने आने के बाद इस्तीफा दिया

अवधपुरी थाना पुलिस (Police) के अनुसार पेट्रोल (Petrol) बम फेंकने के मामले में आरोपी रवि विश्वकर्मा लंबे समय से फरार चल रहा था. जबकि उसके साथी राज थापा को पुलिस (Police) गिरफ्तार कर चूकी है. उसकी धरपकड के प्रयास मे जुटी पुलिस (Police) टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि फरार बदमाश राहतगढ़ के जंगलों में फरारी काट रहा है. सूचना मिलते ही पुलिस (Police) टीम ने उसकी घेराबंदी करते हुए उसे दबोच लिया. पुलिस (Police) पूछताछ में बदमाश ने बताया कि डीएसपी रवि विश्वकर्मा की हत्या (Murder) करने वाले आरोपी हिमांशु प्रताप के दोस्त राज थापा का परिचित है. पुलिस (Police) आरोपी से पूछताछ के बाद बडा खुलासा करने की बात कह रही है.

  बिहार के पटना में बच्ची से छेड़छाड़ का विरोध किया तो मां को मार दी गोली

बताया गया है कि डीएसपी के बेटे ने क्लीनिक और घर पर पेट्रोल (Petrol) बम के हमले के बाद सीसीटीवी कैमरा लगा दिए गए थे. इस दौरान आरोपी पेट्रोल (Petrol) बम फेंकते हुए सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे. फुटेज के आधार पर पुलिस (Police) ने आरोपियों की पहचान जुटाई ओर उनके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस कर ली. मोबाइल लोकेशन और मुखबिर की सूचना के बाद पुलिस (Police) ने फरार आरोपी को दबोच लिया.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *