पेटीएम ने दिहाड़ी मजदूरों को भोजन करने केवीएन फाउंडेशन से मिलाया हाथ


मुंबई (Mumbai) . पेटीएम ने कोरोना के संक्रमण की रोकथाम को लेकर विभिन्न शहरों में दिहाड़ी मजदूरों को भोजन कराने के लिए केवीएन फाउंडेशन से हाथ मिलाने की घोषणा की. कंपनी ने कहा कि इसके तहत वह मुंबई (Mumbai), बेंगलुरू, हैदराबाद, चेन्नई और नोएडा (Noida) जैसे शहरों में रोजाना 75 हजार मजदूरों को भोजन कराएगी. पेटीएम के उपाध्यक्ष सिद्धार्थ पांडेय ने कहा,इस लॉकडाउन (Lockdown) (बंद) के कारण दिहाड़ी मजदूरों की कमाई प्रभावित हुई है.

  दमानी ने पलट दी इस स्मॉलकैप शेयर की ‘काया’

हम उनकी मदद करना चाहते हैं और यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि उनके बच्चे व परिवार के अन्य सदस्य भूखे न रहें. केवीएन फाउंडेशन के साथ भागीदारी इसी दिशा में उठाया गया एक कदम है.’’केवीएन फाउंडेशन ने 27 मार्च करे बेंगलुरू में ‘फीड माय सिटी’ मुहिम की शुरुआत की है. इसके तहत 500 उन लोगों को भोजन कराया जा रहा है, जिनकी आय लॉकडाउन (Lockdown) के कारण प्रभावित हुई है. फाउंडेशन का लक्ष्य अगले कुछ सप्ताह में 30 लाख लोगों को भोजन कराने का है.

  मलेरिया की दवा कोरोना मरीजों के लिए खतरनाक, भारत ने जारी की नई गाइडलाइन

Check Also

सबसे गर्म साल हो सकता है 2020, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

नई दिल्ली (New Delhi). वैज्ञानिकों के एक अंतरराष्ट्रीय समूह ने चेतावनी दी है कि जलवायु …