दाऊदी बौहरा विश्व सम्मेलन का दूसरा दिन : बाहर से आये लोगो ने बताई अपनी संघर्ष की दास्ताँ

उदयपुर. उदयपुर में चल रहे 16 वी दाऊदी बौहरा विश्व सम्मेलन का दूसरे दिन आज सम्मेलन की शुरुआत फोटो एग्जिबिशन से शुरू हुई.  फोटो एग्जीबिशन में सुधारवादी आंदोलन के 50 साल के संघर्ष पर एक चित्र प्रदर्शनी बोहरवाड़ी स्थित जमात खाने में प्रदर्शित की गई. एग्जीबिशन का उद्घाटन सम्मलेन के मुख्य अतिथि प्रोफेसर राम पुनियानी,  विशिष्ट अतिथि विनोद मुबाई,  सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ दाऊदी कम्युनिटी सेंटर के कमांडर मंसूर अली बोहरा, संरक्षक आबिद हुसैन अदीब,  कन्वीनर अनीस मियाजी,  दाऊदी बौहरा जमात के सचिव जाकिर पंसारी, अध्यक्ष फ़ैयाज़ इटारसी,  डॉक्टर इरफान इंजीनियर, शौकत अजमेरी, युनूस बालू वाला, कनीज फातिमा सादड़ी वाला आदि की उपस्थिति में हुआ.

दाऊदी बौहरा जमात के प्रवक्ता मनसूर अली ओड़ा वाला ने बताया कि उक्त एग्जीबिशन 2 दिन चलेगी.  सम्मेलन का दूसरा सत्र उदयपुर के बाहर गुजरात, मध्य प्रदेश, कनाडा, मुंबई, बेंगलुरु, मस्कत, कुवैत सुधारवादियों ने अपने अपने क्षेत्र में अपने स्तर पर किए जा रहे संघर्षों का विवरण दिया. दाऊदी बौहरा जमात ने बाहर से आए सुधारवादियों की कठिनाइयों को समझा और उन्हें आश्वस्त किया कि उनके हर संघर्ष में बोहरा यूथ उनके साथ है और उनका हर मुमकिन साथ देगी.  सम्मेलन में हिस्सा लेने बाहर से आए लोगों को सम्मानित किया गया. इस अवसर पर सम्मलेन में हिस्सा लेने आये सुधारवादि आंदोलन में उल्लेखनीय योगदान के लिए मोइज अली रस्सा वाला (कुवेत), अब्बास अली हकीम (कुवैत),  कनीज फातिमा सादड़ी वाला (मस्कत), शहनाज अजमेरी (कनाडा), गुलनाज बाटली वाला (अमेरिका), फ़ज़्ले हुसैन कपासी (यूके), मुमताज अली बेग वाला (यूएई), अल्ताफ हुसैन गुरा वाला (कुवैत)को सम्मानित किया गया.

  कोरोना महामारी के बीच मदद को शर्मिंदा करने का सिलसिला जारी

गुजरात से जहरा बैन साइकिल वाला और अब्बास जरी वाला, मध्य प्रदेश उज्जैन से कासिम अली, सफिया बेन कांच वाला आदि लोगो उपस्थित जनसमूह के सामने अपने संघर्ष की व्यथा बताई और उदयपुर की लोगो के जज़्बे को सलाम किया. वहीँ मुंबई से सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ दाऊदी कम्युनिटी सेंटर के कोषाध्यक्ष और बोहरा क्रॉनिकल के संपादक यूनुस अली बालू वाला ने भी अपने विचार व्यक्त किए. मुंबई से सेंट्रल बोर्ड ऑफ दाऊदी बौहरा कम्युनिटी सेंटर के डॉक्टर इरफान अली इंजीनियर ने अपने उद्बोधन में कहा कि सुधारवादी आंदोलन में महिलाओं की भूमिका को देखते हुए उन्होंने महिलाओं और युवाओं को आगे आकर समाज का नेतृत्व अपने हाथों में लेने का आह्वान किया. इरफान ने कहा कि हम किसी भी पक्ष से बातचीत करने के लिए हर वक्त मौजूद है लेकिन हमें अपने संवैधानिक अधिकार स्वाधीनता और आत्मसम्मान को बचाना भी हमारा लक्ष्य है.

  उपभोक्ता भंडार के लिए दिए 2.51 लाख रुपए

सम्मलेन के दुसरे दिन शहनाज़ अजमेरी, डॉ कनीज़ फातिमा सादड़ी वाला, कमांडर मंसूर अली बोहरा, नासिर जावेद, अनीस मियांजी, डॉ ज़ैनब बानी और वरिष्ठ नेता आबिद हुसैन अदीब ने अपने विचार व्यक्त किये. तीसरे दिन बोहरा सुधारवादी आंदोलन की भविष्य की रुपरेखा तैयार करने के अलावा समाज और देश की ज्वलंत समस्याओं और अन्य सामाजिक-राजनैतिक कुरीतियों के विरुद्ध प्रस्ताव पारित किये जायेंगे. इसी दिन सेंट्रल बोर्ड ऑफ दाऊदी बोहरा कम्युनिटी की कार्यकारिणी के चुनाव के साथ सम्मेलन का समापन होगा. इस विश्व सम्मेलन के साथ ही बोहरा सुधारवादी आंदोलन के विगत दो वर्षीय स्वर्ण जयंती समारोह का भी समापन होगा.

  कोरोना महामारी के तहत जरूरतमंदो की सहायतार्थ बैंक आए आगे, SBI की ओर से दो लाख से अधिक की सहायता

Check Also

मनमाने दाम पर खाद्य सामग्री बेचने पर रसद विभाग की कार्यवाही, दुकानों पर रेट लिस्ट लगवाई

उदयपुर (Udaipur). जिले में कोरोना महामारी के कारण जिले में लॉकडाउन (Lockdown) हालातों में कतिपय …