Thursday , 21 October 2021

रूसी संसदीय चुनाव में राष्ट्रपति पुतिन पर धांधली के आरोप, एक ही नाम के 3 प्रत्याशी उतारे

मॉस्को . रूस की सर्वोच्च कार्यपालिका यानि संसद के लिए चुनाव हो रहे हैं. शुक्रवार (Friday) को यहां तीन दिवसीय वोटिंग शुरू हो गई. विशेषज्ञों का कहना है कि इस बार भी परिणाम चौंकाने वाले नहीं होंगे, राष्ट्रपति व्लादीमीर पुतिन की यूनाइटेड रशिया पार्टी ही जीतेगी. बावजूद इसके उनका दल चुनाव में हर तरह की धांधली करने में पीछे नहीं है. धांधली की एक बानगी देखिए. सेंट पीटर्सबर्ग में बोरिस विश्नेवस्की नाम के तीन लोग चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि इनमें से एक बोरिस विश्नेवस्की ही असली विपक्षी पार्टी (याब्लोको) का नेता है. विपक्षी नेता को हराने के लिए सत्तारूढ़ दल द्वारा जानबूझकर एक जैसे तीन नाम वाले उम्मीदवारों को उतारा गया है.

  रूस में कोविड के कारण प्रतिदिन होने वाली मौतों का पिछला रिकॉर्ड टूटा

स्थानीय मीडिया (Media) के मुताबिक, यहां चुनाव में 225 उम्मीदवारों में 24 नाम एक जैसे हैं. मतदाताओं को बरगलाने के लिए बोरिस विश्नेवस्की के नाम से उतारे गए, तीन अन्य लोग हूबहू उनकी तरह दाढ़ी बनाकर उनके जैसी शक्ल अख्तियार कर ली है. ताकि पोस्टर में वे विपक्षी नेता की तरह ही दिखें. रूस में मतदान से ठीक पहले एपल और गूगल प्ले स्टोर्स से एक ऐप गायब हो गया. इसे जेल में बंद रूसी विपक्षी नेता एलेक्सी नावल्नी ने बनाया था. ‘स्मार्ट वोटिंग’ एप से उन उम्मीदवारों का प्रचार किया जा रहा था, जो सत्तारूढ़ दल के खिलाफ हैं.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *