राजकुमार हैरी और उनकी पत्नी मेगन मर्केल ने सोशल मीडिया छोड़ने का लिया निर्णय

लंदन . ब्रिटेन राजपरिवार के सदस्य राजकुमार ‘ड्यूक ऑफ ससेक्स’ हैरी और उनकी पत्नी ‘डचेस ऑफ ससेक्स’ मेगन मर्केल को लेकर खबर आ रही है कि वे सोशल मीडिया (Media) को अलविदा कहने वाले हैं, जिससे वह अमेरिकी में अपनी भूमिकाओं पर ध्यान केंद्रित कर सकें. खबरों के मुताबिक पिछले साल अपने एक साल के बेटे के साथ कहीं और बसने के मद्देनजर आधिकारिक शाही दायित्वों से अपने कदम पीछे खींचने वाला यह दंपत्ति अब ट्विटर और फेसबुक जैसे सोशल मीडिया (Media) मंचों का इस्तेमाल नहीं करेगा. कार्यकारी शाही सदस्यों के तौर पर इंस्टाग्राम पर दोनों के एक करोड़ से ज्यादा फालोअर हैं. हैरी और मर्केल ने अमेरिका में अपनी नई ‘प्रगतिशील भूमिका’ के तहत कथित तौर पर सोशल मीडिया (Media) को खारिज किया है.

  भारत में कोरोना के 23 दिनों से दैनिक मृत्यु के मामले 300 से नीचे

दंपत्ति के एक करीबी सूत्र ने बताया कि उनकी अपने नए आर्चवेल फाउंडेशन के लिये सोशल मीडिया (Media) के इस्तेमाल की ‘कोई योजना नहीं’ थी और व्यक्तिगत क्षमताओं में भी उनके इन मंचों पर वापस आने की ‘संभावना बेहद कम’ है. ऐसा समझा जाता है कि सोशल मीडिया (Media) पर ‘नफरत’ से सामना होने के कारण उनका इससे मोह भंग हुआ. पूर्व अभिनेत्री मेगन मर्केल ने ऑनलाइन ट्रोलिंग के बेहद बुरे अनुभव का पहले जिक्र भी किया था. राजकुमार हैरी के साथ 2018 में शादी से पहले 39 वर्षीय अभिनेत्री सोशल मीडिया (Media) पर दमदार मौजूदगी रखती थीं और इंस्टाग्राम पर उनके 19 लाख फालोअर थे तो ट्विटर पर साढ़े तीन लाख लोग उन्हें फॉले करते थे जबकि उनके फेसबुक पेज को आठ लाख से ज्यादा ‘लाइक्स’ मिल चुके थे.

  नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ज्ञवाली ने कहा कि नेपाल अपनी घरेलू राजनीति में कभी हस्तक्षेप स्वीकार नहीं करेगा

मर्केल की एक लाइफस्टाइल वेबसाइट और ‘द टिग’ नाम का ब्लॉग भी था. राजकुमार हैरी (36) से प्रेम प्रसंग शुरू होने के बाद उन्होंने हालांकि इन्हें बंद कर दिया और दंपत्ति ने मिलकर एक संयुक्त इंस्टाग्राम बनाया. शाही दायित्वों से अलग होने के फैसले के बाद समझौते के तहत उन्हें इस अकाउंट को बंद करना पड़ा. खबर के मुताबिक, सोशल मीडिया (Media) का इस्तेमाल करने के बजाए दंपत्ति ऑनलाइन वीडियो और टेलीविजन पर पेशकश के जरिये अपने प्रचार कार्यों को जारी रखने के इच्छुक हैं. हालांकि वे ऐसा कुछ चुनिंदा प्रकाशकों और आर्कवेल वेबसाइट के जरिये ही करेंगे.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *