Tuesday , 26 January 2021

श्रृंखला की पांचवी पारी में पुजारा चौथी बार बने कमिंस का शिकार

सिडनी ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने भारत के खिलाफ यहां जारी तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन शानदार प्रदर्शन करने के बाद शनिवार (Saturday) को कहा कि उनकी टीम चार मैचों की इस श्रृंखला के शुरू होने से पहले ही भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के लिए स्थितियों को ‘जितना संभव हो उतना मुश्किल’ बनाने को लेकर प्रतिबद्ध थी. इस श्रृंखला में पुजारा की जरूरत से ज्यादा रक्षात्मक खेल की आलोचना हो रही है.

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में 338 रनों के जवाब में 176 गेंद में उनकी 50 रन की बेहद धीमी पारी के कारण भारतीय टीम ने लय गंवा दी. कमिंस ने दिन के खेल के बाद ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ आज मुझे पिच से थोड़ी मदद मिली. लेकिन आपको पता है कि वह (पुजारा) ऐसा खिलाड़ी है जिसे आपको बहुत अधिक गेंदबाजी करनी होगी.’’ टेस्ट रैंकिग के इस नंबर एक गेंदबाज ने पुजारा को पवेलियन भेजने के साथ महज 29 रन खर्च कर पांच विकेट लिये. मौजूद श्रृंखला की पांचवी पारी में पुजारा चौथी बार कमिंस का शिकार बने.

  आईओसी प्रमुख की मुश्किलें बढ़ीं

ऑस्ट्रेलिया के पिछले दौरे पर पुजारा ने शानदार बल्लेबाजी की थी, लेकिन मौजूदा दौरे पर वह अब तक सहज नहीं दिखे है. कमिंस ने कहा, ‘‘ हमने श्रृंखला के लिये योजना बनायी थी कि उनके लिए रन बनाना जितना संभव हो उतना मुश्किल करेंगे. वह 200 गेंद खेले या 300 गेंद, हम उन्हें अच्छी गेंद डालकर चुनौती पेश करेंगे. किस्मत से यह योजना अब तक सफल रही है.’’ पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया के 338 रन के जवाब में भारतीय टीम महज 244 रन पर सिमट गयी. तीसरे दिन स्टंप्स तक ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में दो विकेट पर 103 रन बनाकर अपनी बढ़त 197 रन की कर ली है.

  क्रिकेटर एडम परोरे ने माउंट एवरेस्ट किया फतह, मुश्किल में पड़ गई थी जिंदगी, शेरपा की वजह से बचे जिंदा

कमिंस ने कहा कि उनकी टीम बेहतर स्थिति में है, लेकिन भारत वापसी कर सकता है. इस 27 साल के गेंदबाज ने कहा, ‘‘ दिन के खेल के शुरू होते समय मैंने सोचा था कि हम गेंदबाजी करते हुए दिन को खत्म करेंगे. लगभग 200 रन की बढ़त और आठ विकेट बचे होने से हम अच्छी स्थिति में है. भारत अच्छी टीम है और मैं इस बात को लेकर अश्वस्त हूं कि वे वापसी करेंगे.’’

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *