गौरक्षकों के पिटाई से बचे किसान पर राजस्थान पुलिस ने लगा दिए ढेरों केस


कोटा. राजस्थान के बारां जिले में कथित गौरक्षकों के हमले का शिकार हुए शख्स को ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के अनुसार शख्स पर वाहन की क्षमता से अधिक मवेशी ले जाने का आरोप है. मध्यप्रदेश के गांव के रहने वाले शख्स पर मवेशियों की तस्करी के शक में कथित गौरक्षकों ने बारां में हमला किया था. घटना गुरुवार की है. इस घटना का वीडियों सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है. इसमें पीड़ित हमलावरों से अपनी जान बचाने के लिए गुहार लगा रहा है.

  दिमाग की सर्जरी के दौरान मरीज ने बजाया वायलिन

लक्ष्मीनारायण लोधा (40) ने पुलिस को बताया कि उसने बारां जिले से खेती के लिए 3 जोड़ी बैल खरीदकर अपने गांव ले जा रहा था. इसी दौरान रास्ते में गौरक्षक दल के दर्जनभर सदस्यों ने उस रोककर उसकी पिटाई लगा दी. मॉब लिचिंग से लक्ष्मी ने किसी तरह खुद को बचाया,तब पुलिस ने उसके खिलाफ ही क्षमता से अधिक वजन ढोने का केस दर्ज कर दिया. पुलिस ने बताया कि लक्ष्मी ने गौरक्षकों के खिलाफ केस दर्ज करने से इनकार कर दिया.

  शाहीन बाग में वार्ताकार साधना ने कहा, ‘रास्ता बंद रहा तो नहीं कर पाएंगे मदद’

घटना का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें कुछ गौरक्षक लक्ष्मी को पकड़कर पीट रहे हैं. वीडियो में लगातार माफी मांगते हुए देखा जा रहा है. वह बार-बार यह भी कह रहा है कि वह किसान है और तस्करी नहीं कर रहा है. सरथाल पुलिस थाने के प्रभारी परमानंद मीणा ने बताया कि लक्ष्मी की गिरफ्तारी गौरक्षक दल के मुखिया अजय त्यागी की शिकायत पर आधारित है. लक्ष्मी को वाहन की क्षमता से अधिक वजन ढोने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

  HDFC बैंक के उपभोक्ता परेशानी से बचने 29 फरवरी से पहले पुराना मोबाइल ऐप कर ले अपडेट

Check Also

पुराने नोट बदलने के धंधे में बाबू गिरफ्तार, सिपाही फरार

नई दिल्ली . दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में कासना कोतवाली पुलिस ने कमीशन पर …