कृषि कानून वापस नहीं लिए जाने तक जारी रहेगा आंदोलन : राकेश टिकैत

मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) र . भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने तल्ख लहजे में कहा है कि जब तक तीन नए कृषि कानून रद्द नहीं हो जाते, तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा. केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के आंदोलन के सौ दिन पूरे होने के मौके पर यहां रामराज कस्बे में आयोजित कार्यक्रम में टिकैत ने यह कहा. टिकैत ने शनिवार (Saturday) को कहा कि किसानों की मांग है कि तीनों कृषि कानून पूरी तरह से वापस लिए जाएं और जब तक सरकार उनकी मांगे नहीं मानती, तब तक आंदोलन जारी रहेगा. उन्होंने इस मौके पर टैक्टर रैली को रवाना किया.

  हम अर्थव्यवस्था को बंद नहीं करेंगे, हमारा उद्देश्य किसी को परेशान करने की बजाय सुरक्षा देना - अमरिंदर सिंह

उन्होंने बताया कि यह रैली उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और उत्तराखंड के जिलों में जाएगी और 27 मार्च को गाजीपुर में किसानों के प्रदर्शन स्थल पर पहुंचेगी. इस बीच, मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) र से सांसद (Member of parliament) एवं केंद्रीय मंत्री संजीव बालयान ने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों के लिए लाभकारी हैं. उन्होंने कहा, ‘‘कृषि कानूनों के कारण यदि एक भी किसान की जमीन ली गई तो मैं संसद की सदस्यता से इस्तीफा दे दूंगा. ये कानून किसानों की इच्छा के मुताबिक ही लागू किए गए हैं.’’ उल्लेखनीय है कि नवंबर माह के अंत से दिल्ली की सीमाओं पर हजारों की संख्या में किसान केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *