रावण ने उड़ाया पहला विमान! श्रीलंका का दावा


नई दिल्ली (New Delhi). श्रीलंका की सरकार (Government) का दावा है कि पांच हजार साल पहले रावण ने पहली बार विमान का इस्तेमाल किया था. इस बीच श्रीलंका की सरकार (Government) ने एक विज्ञापन जारी कर लोगों से रावण के बारे में कोई भी दस्तावेज शेयर करने को कहा है. यह विज्ञापन पर्यटन और उड्डयन मंत्रालय ने अलग-अलग अखबार में जारी किया. दरअसल, श्रीलंका के लोगों के लिए रावण एक महान राजा था. विज्ञापन में लोगों से अनुरोध किया गया है कि वे रावण से संबंधित कोई भी दस्तावेज या किताबें शेयर कर सकते हैं ताकि सरकार (Government) को पौराणिक राजा और खोई विरासत पर रिसर्च करने में मदद मिल सके.

  राम मंदिर भूमि पूजन में 175 अतिथि आमंत्रित, जानें किस-किस को मिला निमंत्रण

श्रीलंका के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने अब प्राचीन काल में उड़ान भरने के लिए रावण द्वारा इस्तेमाल किए गए तरीकों को समझने के लिए एक पहल शुरू की है. श्रीलंका के सिविल एविएशन अथॉरिटी के पूर्व उपाध्यक्ष शशि दानतुंज ने कहा कि उनके पास ये साबित करने के लिए ढेर सारे तथ्य हैं. अगले पांच वर्षों में, हम ये साबित करेंगे.Ó पिछले साल नागरिक उड्डयन विशेषज्ञों, इतिहासकारों, पुरातत्वविदों, वैज्ञानिकों का एक सम्मेलन कटुनायके में आयोजित किया गया था. यहां श्रीलंका का सबसे बड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बंदरानाइक स्थित है. सम्मेलन ने निष्कर्ष निकाला था कि रावण ने 5,000 साल पहले श्रीलंका से आज के भारत के लिए उड़ान भरी थी और वापस आया था.

  दिग्विजय की मानसिक हालत ठीक नहीं, उन्हें ट्रीटमेंट की जरूरत: साक्षी महाराज

Check Also

Gujarat Hospital Fire : अहमदाबाद के कोविड अस्पताल में आग, 8 कोरोना मरीजों की मौत

गुजरात के अहमदाबाद (Ahmedabad) के नवरंगपुरा में गुरुवार (Thursday) तड़के एक कोविड डेडिकेटेड अस्पताल के …