SBI की ग्राहकों को चेतावनी, वायरस से बचें

नई दिल्‍ली . स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) की ओर से कस्टमर्स के लिए एक एडवाइजरी शेयर की गई है और उन्हें खतरनाक बैंकिग वायरस से अलर्ट किया गया है. Cerberus नाम के खतरनाक मैलवेयर की मदद से अकाउंट होल्डर्स को निशाना बनाया जा रहा है.

sbi-warning

यह मैलवेयर फेक एसएमएस भेजकर यूजर्स को बड़े ऑफर्स के बारे में जानकारी देता है और अनजान लिंक्स पर क्लिक करवाने या फिर ऐप्स डाउनलोड करने के बाद उन्हें शिकार बना लेता है. ऐसे ऐप्स का मकसद अकाउंट होल्डर्स के पैसों पर हाथ साफ करना है.

एसबीआई के ट्विटर पर ऑफिशल हैंडल पर किए गए ट्वीट में लिखा है, ‘ऐसे फेक एसएमएस से बचकर रहें जो बड़े ऑफर्स का लालच या मौजूदा महामारी से जुड़ी जानकारी देते हैं और अनजान लिंक्स पर जाने या फिर अनजान सोर्स से कोई ऐप्स डाउनलोड करने को कहते हैं. यह आपको नुकसान पहुंचाने की कोशिश है.’ पोस्ट में देश के सबसे बड़े पब्लिक सेक्टर बैंक ने एक इमेज भी शेयर की है, जिसमें ‘Cerberus Alert’ कैप्शन दिया गया है. यह हाल ही में रिलीज हुई वेब सीरीज पाताल लोक से इंस्पायर लग रहा है.

  कोरोना के खिलाफ अपनी जिम्मेदारी को निभाने में विफल रही गहलोत सरकार: राज्यवर्धन राठौड़

बड़े ही क्रिएटिव तरीके से एसबीआई ने स्वर्ग लोक, धरती लोक और पाताल लोक तीन हिस्सों में इसे बांटा है. इसमें पाताल लोक के यूजर्स को Cerberus ट्रोजन मैलवेयर को ऑनलाइन बैंकिंग करने वाले इन्फेक्टेड यूजर्स के लिए पाताल लोक बताया गया है.



इसमें बताया गया है कि स्वर्ग लोक के ऐसे यूजर्स हैं, जिनपर हमेशा फ्रॉड का खतरा बना रहता है. धरती लोक के यूजर उन्हें माना गया है, जिन्हें इस मैलवेयर और खतरे का पता है और इसके बावजूद वे अनजान लिंक्स पर क्लिक करते हैं. वहीं, पाताल लोक के यूजर्स इन्फेक्टेड हो चुके हैं.

  ख्वाजा की दरगाह का जन्नती दरवाजा तो खुला, जायरीन नहीं दिखे

ट्रोजन मैलवेयर दरअसल यूजर्स के बैंकिंग डीटेल्स चोरी करने का काम करता है. इन डीटेल्स में क्रेडिट कार्ड नंबर्स, सीवीवी और बाकी डेटा शामिल है. इसके अलावा ट्रोजन की मदद से विक्टिम्स को शिकार बनाने के बाद उनकी पर्सनल जानकारी और टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन डीटेल्स भी चोरी किए जा सकते हैं.

  फोर्ड इंडिया ने वापस बुलाई इकोस्पोर्ट की यूनिट्स, 22 जनवरी से 8 फरवरी के बीच बनाई यूनिट वापस बुलाई

कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान फ्रॉड करने वाले भी पहले के मुकाबले ज्यादा ऐक्टिव हो गए हैं. यूजर्स को किसी अनजान लिंक पर क्लिक ना करने और केवल प्ले स्टोर या ऐप स्टोर से ही ऐप्स डाउनलोड करने की सलाह दी जाती है.


Check Also

कलक्टर श्रीमती आनंदी ने आज शहर के इन क्षेत्रों में लगाई निषेधाज्ञा

उदयपुर (Udaipur). उदयपुर (Udaipur) शहर के विभिन्न क्षेत्रों में नोवेल कोरोना (Corona virus) से संक्रमित …