Wednesday , 14 April 2021

अदाकारा सोमी अली के साथ ‘5 और 9 की उम्र में हुआ यौन शोषण, 14 साल में हुआ रेप’, किया खुलासा

मुंबई (Mumbai) . पाकिस्तान से बॉलीवुड (Bollywood) इंडस्ट्री में कदम रखने वाली अदाकारा सोमी अली ने 90 के दशक अपने हुनर के बल पर अलग पहचान तो बनाई, लेकिन उनके नाम की चर्चाएं तब शुरू हुईं, जब सलमान खान के साथ वह रिलेशनशिप में आईं, लेकिन ये रिश्ता ज्यादा समय तक चल नहीं सका. इसके कुछ समय बाद ही उन्होंने इंडस्ट्री को अलविदा भी कह दिया था. इन दिनों वह ‘नो मोर टीयर्स’ नाम से एनजीओ से जुड़ी हुई हैं.

हाल ही में उन्होंने कुछ चौंकाने वाले खुलासे किए हैं, जिसके बाद वह फिर से सुर्खियों में आ गई हैं. सोमी ने एक लेटेस्ट इंटरव्यू के दौरान अपने साथ हुईं यौन उत्पीड़न की घटनाओं पर खुलकर बात की है. कहते हैं कुछ दर्द ऐसे होते हैं, जिन्हें भुला पाना मुश्किल होता है. सोमी अली के जीवन में भी कुछ ऐसे दर्द हैं.

  रणवीर-आलिया को लेकर लव स्टोरी ला रहे करन जौहर

हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया कि जब वह 5 और 9 साल की थीं, तब उनका यौन शोषण हुआ था और 14 की उम्र में उनका रेप भी किया गया था. उन्होंने बताया, मेरा पहला यौन शोषण पाकिस्तान में हुआ था. उस वक्त मैं 5 साल की थी. सर्वेंट क्वार्टर में ऐसी 3 घटनाएं हुईं. मैंने मम्मी-पापा को इसके बारे में बताया. एक्शन भी लिया गया था, लेकिन मेरे मम्मी-पापा ने मुझसे कहा था कि बेटा ये बात किसी को मत बताना.

उन्होंने आगे कहा कि मेरे दिमाग में यह कई सालों तक रहा. मैं सोच रही थी कि क्या मैंने कुछ गलत किया था? मैंने अपने पैरेंट्स को क्यों बताया? पाकिस्तान और भारत की संस्कृति बहुत ही छवि आधारित है. वे मुझे सुरक्षा दे रहे थे, लेकिन मैं इसे समझ नहीं पाई. जब मैं 9 साल की हुई तब फिर ऐसी ही घटना हुई और फिर 14 की उम्र में मेरा रेप हुआ. सोमी ने बताया कि जब वो अपनी आत्मकथा लिखने जाती हैं तो उन्हें वो अंधकार भरा सर्वेंट क्वाटर याद आ जाता है. उन्होंने कहा कि मुझे आज भी उस कुक की गंध याद है. मुझे सब याद है, उन सबमें वापस जाकर उन घटनाओं के बारे में लिखना वाकई बेहद अंधेरे से भरा है. इसलिए मुझे इतना वक्त लगा.

  'मैदान' में दुनियाभर के खिलाड़ियों के साथ होगा भारत का मैच

सोमी ने आगे कहा कि कुछ तीन सालों पहले मैंने इस पर बात करनी शुरू की है. मैं एक एनजीओ के साथ जुड़ी हूं जो रेप पीड़ितों की मदद करता है. उनका कहना है कि इस एनजीओ की वजह से ही इन भयावह घटनाओं पर बात कर पा रही हैं. ‘नो मोर टीयर्स’ नाम की संस्था घरेलू हिंसा की शिकार महिलाओं की मदद करती है. पिछले 14 सालों में इस संस्था ने हजारों महिलाओं, पुरुषों और बच्चों के चेहरे पर मुस्कान लाने का काम किया है. आपको बता दें कि सोमी अली इससे पहले भी 2018 में एक सोशल मीडिया (Media) पर पोस्ट के जरिए इन भयावह घटनाओं के बारे में बता चुकी हैं.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *