शार्दुल और सुंदर की रिकार्ड साझेदारी से भारतीय टीम का ऑस्ट्रेलिया को ठोस जवाब

भारत पहली पारी 336
ऑस्ट्रेलिया की कुल बढ़त 54 पहुंची

ब्रिसबेन . भारत ने शार्दुल ठाकुर 67 और वॉशिंगटन सुंदर 62 के बीच सातवें विकेट के लिए हुई 123 रनों की रिकार्ड शतकीय साझेदारी से ऑस्ट्रेलिया के साथ चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में अपनी पहली पारी में 336 रन बनाये. वहीं ऑस्ट्रेलिया की ओर से जोश हेजलवुड ने पांच जबकि पैट कमिंस व मिशेल स्टार्क ने दो-दो जबकि नॉथन लॉयन ने एक विकेट लिया. इससे पहले मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम ने अपनी पहली पारी में 369 रन बनाये थे. इस प्रकार पहली पारी के आधार पर मेजबान टीम को 33 रनों की बढ़त मिली हुई है. तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के 21 रन बना लिए थे. सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर 20 और मार्कस हैरिस 1 रन बनाकर खेल रहे थे. इस प्रकार ऑस्ट्रेलिया की कुल बढ़त 54 रन की हो गई है.

  गॉफ ने भारतीय टीम की जमकर तारीफ की

तीसरे दिन भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी में 2 विकेट पर 62 रनों से आगे खेलना शुरु किया. भारतीय टीम को अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा से अच्छे स्कोर की उम्मीद थी पर वह इसमें सफल नहीं हो पाये और एक बार फिर जोश हेजलवुड का शिकार बने. हेजलवुड ने पुजारा को आउट कर भारतीय टीम को तीसरा झटका दिया.
हेजलवुड की गेंद पर कप्तान टिम पेन ने पुजारा को कैच किया. पुजारा 94 गेंद पर 25 रन बनाकर आउट हुए. तीसरे विकेट के लिए उनके और कप्तान अजिंक्य रहाणे के बीच 45 रन की साझेदारी हुई. टेस्ट क्रिकेट में यह छठा मौका था जब हेजलवुड ने पुजारा को अपना शिकार बनाया.

तीसरे दिन के खेल का आकर्षण शार्दुल और सुंदर की अच्छी बल्लेबाजी रही. दोनों ने पहली बार अपने-अपने अर्धशतक पूरे किए. अर्धशतक पूरा करने के बाद दोनों बल्लेबाजों ने सातवें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की और और भारत को 300 रनों के पार पहुंचाया.
भारत ने लंच तक चार विकेट के नुकसान पर 161 रन बनाए थे. भारत ने पहले सत्र में नाबाद बल्लेबाजों-कप्तान अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के विकेट गंवाए. रहाणे 37 और पुजारा 25 रन बनाकर आउट हुए. इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 45 रनों की साझेदारी की. पुजारा का विकेट 105 के कुल योग पर गिरा. 94 गेंदों पर दो चौके लगाने वाले पुजारा को जोश हेजलवुड ने आउट किया.
इसी तरह कप्तान का विकेट 144 के कुल योग पर गिरा. कप्तान ने 93 गेंदों का सामना कर तीन चौके लगाए. लंच के बाद भारत ने मयंक अग्रवाल और ऋषभ पंत के विकेट खोये. मयंक लंच के तुरंत बाद मयंक 38 रन बनाकर आउट हुए. उस समय भारतीय टीम का स्कोर 161 रन था. इसे बाद ऋषभ पंत 186 के कुल योग पर आउट हुए. ऋषभ ने 29 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 23 रन बनाए.

  टोक्यो ओलंपिक टॉर्च रिले के लिए स्वास्थ्य प्रोटोकॉल घोषित

शार्दुल 67 रन बनाकर जब आउट हुए तब भारतीय टीम ने 309 रन बना लिए थे. उन्हें पैट कमिंस ने आउट किया. शार्दुल ने अपनी पारी के दौरान 115 गेंदों पर नौ चौके और दो छक्के लगाए. इसके बाद भारत का आठवां विकेट नवदीप सैनी का गिरा. नवदीप 5 रन बनाकर ही आउट हो गये. उस समय भारतीय टीम का स्कोर 320 रन था. नौवां विकेट सुंदर के रूप में 328 के स्कोर पर गिरा. सुंदर 62 रन बनाकर पेवलियन लौट. उन्होंने 144 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाकर ये रन बनाये. उस समय तक भारतीय टीम अच्छे स्कोर तक पहुंची गयी थी जबकि अंतिम 10वां विकेट 336 के स्कोर पर मोहम्मद सिराज का गिरा. सिराज 13 रन बनाकर आउट हुए. नजटराजन एक रन बनाकर नाबाद रहे.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *