ट्रंप के भारत दौरे को लेकर शिवसेना ने मोदी सरकार को घेरा, कहा- दिख रही सरकार की गुलाम मानसिकता


मुंबई. भारत के दौरे पर आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लेकर शिवसेना ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा हैं. ट्रंप गुजरात के अहमदाबाद शहर आएंगे. यहां वह करीब तीन घंटे बिताएंगे और उनके स्वागत के लिए तैयारियां जोरशोर से चल रही हैं. लेकिन शिवसेना को ये तैयारियां नागवार गुजरी. शिनसेना ने अपने मुखपत्र में ट्रंप के भारत दौरे को लेकर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है.

  कोरोना रोग से बचने के उपाय बताए : सही स्वास्थ्य है, जीवन का सार इसके बिना है, सब बेकार

शिवसेना ने अखबार के संपादकीय में लिखा कि गुलाम भारत में जब इंग्लैंड के राजा या रानी आते थे तो जनता के पैसों से उनके स्वागत की जैसी तैयारी होती थी वैसी ही तैयार ट्रंप के लिए भी हो रही है. संपादकीय में कहा गया है कि अमेरिका के राष्ट्रपति अर्थात ‘बादशाह’ अगले सप्ताह हिंदुस्तान दौरे पर आनेवाले हैं इसलिए अपने देश में जोरदार तैयारी शुरू है. ‘बादशाह’ ट्रंप क्या खाते हैं, क्या पीते हैं, उनके गद्दे-बिछौने, टेबल, कुर्सी, उनका बाथरूम, उनके पलंग, छत के झूमर कैसे हों इस पर केंद्र सरकार बैठक, सलाह-मशविरा करते हुए दिखाई दे रही है.

  जेके ऑर्गनाइजेशन कोरोना से निपटने के लिए देगा 10 करोड़

साथ ही ट्रंप के दौरे पर खर्च होने वाले पैसों को लेकर संपादकीय में कहा गया है, ‘ट्रंप अमदाबाद एयरपोर्ट पर उतरेंगे इसलिए एयरपोर्ट और एयरपोर्ट के बाहर की सड़कों की ‘मरम्मत’ शुरू है. हम ऐसा पढ़ते हैं कि ट्रंप केवल तीन घंटों के दौरे पर आ रहे हैं और उनके लिए 100 करोड़ रुपया सरकारी तिजोरी से खर्च हो रहा है. इस सबमें मजे की बात ऐसी है कि ट्रंप को सड़क से सटे गरीबों के झोपड़े का दर्शन न हो इसके लिए सड़क के दोनों ओर किलों की तरह ऊंची -ऊंची दीवारें बनाने का काम शुरू है. शिवसेना ने सवाल उठाते हुए पूछा मोदी सबसे बड़े विकास पुरुष हैं?

  मरकज खाली कराने वाले 7 पुलिसकर्मी छुट्टी पर

Check Also

क्वारनटीन सेंटर से निकलकर गेहूं पिसवाने पंहुचा युवक तो पुलिस ने पीटा, किया सुसाइड

लखीमपुर. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के फरिया पिपरिया गांव से एक सनसनीखेज मामला …