प्रदेश में कोरोना संक्रमण लगातार कम हो रहा : शिवराज

भोपाल (Bhopal) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण लगातार कम हो रहा है. वे अपने निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना‍ नियंत्रण कोर ग्रुप के सदस्यों से चर्चा की तथा प्रदेश के जिलों में कोरोना की‍ स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की.

cm-corona-meeting

उन्होंने कहा कि आज कोरोना के प्रतिदिन नए प्रकरण 10 हजार के नीचे आ गए हैं. प्रदेश में आज के नए प्रकरण 9,715 है, कोरोना वृद्धि दर 1.8 फीसदी है तथा पॉजिटिविटी रेट 15.8 फीसदी हो गई है. साप्ताहिक वृद्धि दर में भी कमी आयी है, यह 17.8 फीसदी हो गई है. कोरोना के 7,324 मरीज स्वस्थ होकर घर गए हैं. एक्टिव मरीजों की संख्या 01 लाख 11 हजार 223 है.

यह भी पढ़ें : रेमडेसिविर की पर्याप्त सप्‍लाई के प्रयास कर रही सरकार

  राजस्थान लॉकडाउन 2.0 में छूट और बढ़ाई, शॉपिंग काम्पलेक्स, रेस्टोरेन्टस एवं जिम खोलने की दी अनुमत

चौहान ने कहा कि हमें गाँव-गाँव तथा शहर-शहर में व्यापक रूप से जनसहयोग से किल कोरोना अभियान चलाकर तथा कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कर, एक ओर कोरोना के संक्रमण की चेन को पूरी तरह से तोड़ देना है, वहीं प्रारंभिक स्थिति में ही हर मरीज की पहचान कर तथा उसे दवाएं देकर स्वस्थ करना है. बैठक में कोर ग्रुप के सदस्य, मंत्रीगण, अधिकारीगण, जिलों के प्रभारी मंत्रीगण, अधिकारीगण उपस्थित थे.

प्रदेश में 26 हजार 224 कोरोना मरीजों को नि:शुल्क उपचार दिलवाया जा रहा है. इनमें से 22,237 सरकारी अस्पतालों में, 3066 अनुबंधित अस्पतालों में तथा 921 आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत संबद्ध अस्पतालों में भर्ती हैं. नकली रेमडेसिविर इंजैक्शन बेचने पर आज 18 व्यक्तियों के विरूद्ध कार्रवाई की गई.

इंदौर (Indore) में 10 व्यक्तियों, उज्जैन में 02 व्यक्तियों तथा जबलपुर (Jabalpur)में 06 व्यक्तियों के विरूद्ध कार्रवाई की गई है. चौहान ने निर्देश दिए कि सभी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें जेल भेजा जाए. प्रदेश में चलाए जा रहे किल कोरोना अभियान में अभी तक 22 हजार 439 मेडिकल किट्स ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में वितरित किए गए हैं.

  मुंबई से दिल्ली का ट्रेन सफर अब जल्द होगा कम, 16 की जगह मात्र 12 घंटे में तय होगी दूरी

चौहान ने निर्देश दिए कि कुछ कोरोना मरीजों में हो रहे फंगल इंफैक्शन पर भी ध्यान दिया जाए. भारत सरकार द्वारा इस संबंध में एडवाइजरी जारी की गई है, फंगल इंफैक्शन के इलाज के लिए उसे फॉलो किया जाए. होम आइसोलेशन के मरीजों का पूरा ध्यान रखा जाए. नि:शुल्क मेडिकल किट के साथ रोज डॉक्टर (doctor) की सलाह दी जाए. प्रतिदिन फोन से बात की जाए.

जिलेवार समीक्षा में पाया गया कि ग्वालियर (Gwalior) जिले की कोरोना ग्रोथ रेट 2.2 प्रतिशत तथा 7 दिन की औसत पॉजिटिविटी रेट 24.3 प्रतिशत है, जबकि प्रदेश में अन्य जिलों में संक्रमण कम हो रहा है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने ग्वालियर (Gwalior) पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए. शिवपुरी (Shivpuri)एवं दतिया जिलों को भी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए. शिवपुरी (Shivpuri)की कोरोना ग्रोथ रेट 3.1 फीसदी तथा 7 दिन की औसत पॉजिटिविटी 25.8 फीसदी है.

  रेलवे ने की 20 ट्रेनें फिर से चालू करने की घोषणा

दतिया की ग्रोथ रेट 2 फीसदी तथा 7 दिन की पॉजिटिविटी 17.8 फीसदी है. चौहान ने कहा कि प्रदेश में रेमडेसिविर इंजैक्शन की भी पर्याप्त आपूर्ति हो रही है.

स्वास्थ्य आयुक्त आकाश त्रिपाठी ने बताया कि प्रदेश को अभी तक 01 लाख 88 हजार 451 रेमडेसिविर मिले जिनमें से 99,727 निजी अस्पतालों को तथा 88,724 शासकीय अस्पतालों को उपलब्ध कराए गए.


न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *