तेज आवाज में डीजे बजाने से 60 मुर्गियों की मौत, हैरान करने वाला मामला

बालासोर . तेज आवाज में डीजे बजाने से पशुओं और पक्षियों को परेशानी के बारे में अपने पढ़ा होगा, लेकिन ओडिशा का यह मामला हैरान कर देगा. बालासोर जिले में मुर्गी फार्म चलाने वाले शख्स ने आरोप लगाया है कि तेज डीजे की आवाज से उसकी करीब 60 मुर्गियां मर गई हैं.मालिक ने आरोप लगाया है कि उनके गांव में आई एक बारात में बज रहे डीजे की तेज आवाज से उनके खेत में कम से कम 63 मुर्गियों की मौत हो गई.

नीलागिरी थाना क्षेत्र के कंडागराडी गांव के रंजीत परिदा ने एफआईआर (First Information Report) कर आरोप लगाया कि बारात के दौरान दूल्हे की तरफ के लोगों ने तेज आवाज में संगीत बजाया, इस कारण उनके खेत में 63 मुर्गियों की मौत हो गई. फार्म मालिक ने कहा, “रविवार (Sunday) की रात करीब 11 बजे मैतापुर के पास के गांव से दूल्हे की तरफ के लोग डीजे-संगीत के साथ मेरे गांव पहुंचे थे. दूल्हे की पार्टी ने तेज आवाज में पटाखे भी फोड़े थे. इतनी तेज आवाज मुर्गियों के लिए बहुत अधिक थी. मैंने बारातियों से आवाज कम करने का अनुरोध किया. हालाँकि, वे सभी नशे में धुत्त लग रहे थे और वे मुझे गाली दे रहे थे. मेरे खेत में घबराई हुई मुर्गियाँ डर के मारे इधर-उधर भागने लगीं और एक घंटे बाद मुझे 63 मुर्गियाँ मरी हुई मिलीं.”

मुर्गी किसान ने कहा कि अगली सुबह दुल्हन के परिवार से मुर्गी पक्षियों की मौत के बारे में पूछा तो उन्होंने मुआवजा देने से इनकार कर दिया. परीदा ने कहा, “तेज आवाज के कारण लगभग मेरे 150 किलो चिकन का नुकसान हो गया क्योंकि मुर्गियां सदमे से मर गई थीं.इसबारे में जाने-माने प्रोफेसर ने कहा कि तेज आवाज से इंसानों के साथ-साथ पक्षियों में भी हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है. जोरदार संगीत के कारण उन्हें समस्या हो सकती है. 2019 में, इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में डिस्क जॉकी (डीजे) पर एक पूर्ण प्रतिबंध जारी किया था और उन्हें “मानव स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरा” कहा था.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *