पैरेंटिंग में कष्ट भी होता, खुशी भी मिलती -गायिका सिया ने बताए पैरेंटिंग के अपने अनुभव

लॉस एंजेलिस . जानीमानी अमे‎रिकी गायिका सिया का कहना है कि पैरेंटिंग करना एक ऐसा काम है, जिसमें बहुत कष्ट होता है. साथ ही यह ऐसा काम है, जिसे करके आप खुद को ऐसे समझते हैं, जैसे आपको किसी चीज का इनाम मिला हो. ए‎क रिपोर्ट के मुताबिक, सिया ने ‘द प्रोजेक्ट’ पर कहा, “यह काम बहुत कठिन है. इसमें कष्ट भी होता है और खुशी भी मिलती है. मुझे हर समय उन्हें याद दिलाना होता है मैं कहीं नहीं जा रही हूं और मैं उनसे प्यार करती हूं.

  शॉर्ट फिल्म नटखट ऑस्कर 2021 के लिए नामित

मुझे लगता है कि किसी से ऐसा कहना डरावना है कि मैं हमेशा आपको प्यार करूंगी, जबकि आप अपनी पूरी जिंदगी में 28 घरों में रह चुके हैं.” इससे पहले गायिका ने मातृत्व को अब तक का सबसे अच्छा काम बताया था. उन्होंने कहा, “अब तक मैंने जो काम किए हैं, उसमें सबसे अच्छी चीज है मातृत्व. यह सबसे कठिन काम में से एक है, लेकिन इसके लिए मेरे अंदर प्यार का अथाह सागर है और यह केवल कुछ देर के लिए नहीं है. अब मैं शिशुओं के लिए काम करने की योजना बना रही हूं. हो सकता है कि उनकी मां नशीली दवाओं की आदी हों और जब तक वे उन्हें वापस लेने नहीं आती हैं, मैं उनकी देखभाल करूंगी. यदि मैं ऐसा कर पाती हूं तो मुझे लगता है कि मैं खुद को सुपरह्यूमन समझूंगी.”

  शॉर्ट फिल्म नटखट ऑस्कर 2021 के लिए नामित

सिया अब दादी बन चुकी हैं, क्योंकि उनके एक बेटे के यहां 2020 में बच्चे का जन्म हुआ है. बतौर दादी अपनी जिम्मेदारियों के बारे में उन्होंने कहा, “मैंने इसके बारे में बात करना बंद करने का फैसला किया है. मुझे एहसास हुआ कि सारी बातें दुनिया के साथ साझा करने की नहीं होतीं. मुझे एहसास हुआ है कि मैं अपने बच्चों के निजी जीवन के बारे में बात नहीं कर सकती. मैं एक मां बनना सीख रही हूं.” मालूम हो ‎कि ‎सिया ने कुछ साल पहले 2 छोटे लड़कों को गोद ‎लिया है और अभी उनकी देखभाल खुद कर रही है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *