दक्षिण अफ्रीकी आयोग ने पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा को दो साल कारावास की सजा देने का किया अनुरोध

जोहान्सबर्ग . दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए गठित आयोग ने अदालत की अवमानना के मामले में जुमा को दो साल जेल की सजा दिए जाने का अनुरोध किया है. ‘कमीशन ऑफ इन्क्वायरी इनटू स्टेट कैप्चर’ ने कई बार समन भेजे जाने और संवैधानिक अदालत के आदेश के बावजूद जुमा के पेश नहीं होने पर यह निर्णय लिया है.

  धीमे टीकाकरण की वजह से पाकिस्तान में बढ़ा कोरोना की तीसरी लहर का खतरा

पिछले साल आयोग की सुनवाई के दौरान जुमा (78) अध्यक्ष की इजाजत के बगैर ही वहां से चले गए थे. पूर्व राष्ट्रपति ने जोर दिया कि वह प्रक्रिया में तब तक शामिल नहीं होंगे, जब तक कि आयोग के अध्यक्ष उप मुख्य न्यायाधीश (judge) रेमंड जोंडो को हटाया नहीं जाता. जुमा ने दावा किया कि जोंडो के कारण उन्हें सुनवाई में न्याय नहीं मिलेगा. हालांकि उप मुख्य न्यायाधीश (judge) ने इस बात से इनकार किया है. संवैधानिक अदालत को भेजे तत्काल आवेदन में आयोग के सचिव इतुमेलेंग मोसाला ने अवमानना के कई आरोपों में जुमा के लिए दो साल सजा की मांग की है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *