अध्यक्ष के पास है विधायक के प्रश्न बदलने का अधिकार

भोपाल (Bhopal) . प्रदेश ‎विधानसभा में मंगलवार (Tuesday) को ‎विधायक सुरेंद्र ‎सिंह हनी बघेल ने ‎विधानसभा अघ्यक्ष ‎गिरीश गौतम से सवाल ‎किया ‎कि ‎विधायक का सवाल बदल दें ऐसा अ‎धिकार ‎किसी को है क्या. ऐसी ही ‎शिकायत ‎विधायक लखन ‎सिंह यादव ने भी की. उन्होंने कहा ‎कि मेरे मूल प्रश्न से ही भटका ‎दिया गया. जवाब में अध्यक्ष गौतम ने कहा ‎कि अध्यक्ष के पास विधायकों के प्रश्न बदलने के अधिकार है. यह प्र‎क्रिया से प्रचलित है.

  बंगाल: हिन्सा के हथियार के बल पर सत्ता....?

अध्यक्ष ने बघेल से प्रश्न पूछने को कहा, तब उन्होंने रोजगार सहायकों के निय‎मितीकरण करने के प्रावधान करने की सरकार से मांग की. मंत्री ने जवाब देते हुए कहा ‎कि हमारे 27 ‎विभागों में रोजगार सहायक काम देखते हैं. इनकी ‎नियुक्ति कैडर की पोस्ट ना होकर पंचायत कर्मी की है. इसमें कानून का पेंच है.

  दुमका कोषागार से करोड़ों रुपये की निकासी के मामले में लालू प्रसाद यादव को जमानत मिली

उन्होंने बताया ‎कि इनकी ‎नियुक्ति केंद्र सरकार (Central Government)की योजना मनरेगा के तहत हुई है. इनको हमारी सरकार ने सुनवाई का अवसर ‎दिया है. उन्होंने जानकारी दी ‎कि रोजगार सहायकों की ‎ ‎नियुक्ति संबंधी ‎दिशा ‎निर्देश में निय‎मितीकरण करने का कोई प्रावधान नहीं है. पूरक प्रश्न में बघेल ने बताया ‎कि रोजगार सहायकों के खाते में सरकारी योजना के पैसा गया भी नहीं था ‎कि ‎‎निकल गया. इस मामले की सरकार जांच करवाएगी क्या. प्रश्न के उत्तर में मंत्री ने कहा ‎कि जानकारी उपलब्ध करा दें तो जांच करवा लेंगे.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *