Uttar Pradesh

वाराणसी में तीन अक्टूबर से शुरू होगा विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान

प्रतीक

-दस्तक अभियान में खोजे जाएंगे बुखार, आईएलआई, टीबी, कुष्ठ, फाइलेरिया व कालाजार के रोगी

Varanasi , 19 सितम्बर . वेक्टर जनित बीमारियों डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, फाइलेरिया आदि की रोकथाम के लिए राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत तीन अक्टूबर से 31 अक्टूबर के बीच Varanasi में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान संचालित किया जाएगा. इसके साथ 16 से 31 अक्टूबर तक घर-घर दस्तक अभियान चलाया जाएगा. Tuesday को अभियान को लेकर मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) हिमांशु नागपाल की अध्यक्षता में राइफल क्लब में जनपद स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक हुई. सीडीओ ने अभियान की तैयारियों को लेकर स्वास्थ्य विभाग समेत सभी 16 सहयोगी विभागों से विस्तृत जानकारी ली.

  पुलिस आत्मरक्षा में ही गोली चलाती है : प्रशांत कुमार

सीडीओ ने समस्त विभागों को निर्देशित किया कि जनपद के नगर या ग्रामीण क्षेत्रों में कहीं भी जल जमाव, गंदगी, आदि की स्थिति पैदा न हो. नगर में कहीं भी जल भराव, नाली जाम आदि की स्थिति होने नगर निगम इस पर तुरंत कार्रवाई करें. इसी तरह की स्थिति ग्रामीण क्षेत्रों में होने पर पंचायती राज व ग्राम विकास विभाग की ओर से तत्काल प्रभाव से कार्रवाई की जाए. हॉट स्पॉट क्षेत्रों, घनी आबादी व अन्य मलिन बस्तियों में एंटी लार्वा छिड़काव, फोगिंग आदि का कार्य किया जाए. उन्होंने कहा कि सभी विभागों के आपसी सामंजस्य से ही संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान को सफल बनाया जा सकता है. इस अभियान के अंतर्गत ही ‘दस्तक अभियान’ 16 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा. दस्तक अभियान में विभिन्न विभागों के फ्रंटलाइन वर्कर्स मच्छर जनित एवं संक्रामक रोगों से बचाव की जानकारी घर-घर जाकर देंगे.

  वायु में फैले संक्रमण से शरीर में प्रवेश करते हैं कुष्ठ रोग के वायरस

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ संदीप चौधरी ने बताया कि इसके लिए जिले में तैयारियां शुरू कर दी हैं. ब्लॉक स्तर पर टास्क फोर्स की बैठकें तथा अग्रिम पंक्ति के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का संवेदीकरण और प्रशिक्षण कार्यशाला समय रहते पूरी कर ली जाएगी.

/श्रीधर/आकाश

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Most Popular

To Top

ताजा खबरों के लिए हमारा ग्रुप ज्‍वाइन करें


This will close in 0 seconds