स्टार रसलर विनेश ने पूछा आखिर कौन तय करता है किसे मिलना चाहिए पुरस्कार?


नई दिल्ली. स्टार पहलवान विनेश फोगाट ने तीसरी बार अनदेखी होने के बाद खिलाड़ियों को पद्म पुरस्कार देने के तरीके पर सवाल उठाते हुए पूरी प्रक्रिया को ही अनुचित करार दिया है. विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता और टोक्यो ओलिंपिक में भारत की पदक की उम्मीदों में से एक विनेश फोगाट ने सरकार पर निशाना साधते हुए ‘योग्य’ उम्मीदवारों को नहीं चुनने का आरोप लगाया है.

  न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज फर्ग्यूसन भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज से हो सकते हैं बाहर

विनेश ने अपने आधिकारिक ट्विटर पेज पर डाले स्क्रीनशॉट पर लिखा-हर साल हमारी सरकार कई खिलाड़ियों को पुरस्कार देती है. इन पुरस्कारों से खेल और खिलाड़ियों की अच्छा प्रदर्शन करने के लिए हौसलाअफजाई होती है, लेकिन यह भी देखा गया है कि कई बार इन पुरस्कारों के जरिए मौजूदा उपलब्धियों या खेल जगत में पिछले कुछ समय की सफलता को सम्मानित नहीं किया जाता.

  IPL में घरेलू खिलाडियों का प्रदर्शन अहम : दिल्ली कैपिटल्स द्वारा चुने गए अनुभवी पेसर है मोहित शर्मा

उन्होंने कहा ऐसा लगता है कि योग्य खिलाड़ी को हर बार छोड़ दिया जाता है. उन्होंने दावा किया कि 2020 के लिए घोषित पुरस्कारों में भी ऐसा ही हुआ है. कौन फैसला करता है कि किसे पुरस्कार मिलेगा? क्या यह फैसला करने वाली ज्यूरी में मौजूदा और पूर्व खिलाड़ी शामिल हैं? यह काम भी कैसे करता है?

  ग्रीन मैराथन में सबा करीम भी हुए शामिल

Check Also

IPL में घरेलू खिलाडियों का प्रदर्शन अहम : दिल्ली कैपिटल्स द्वारा चुने गए अनुभवी पेसर है मोहित शर्मा

नई दिल्ली. आईपीएल 2020 में भारतीय खिलाड़ियों की मजबूत फौज कैपिटल्स के लिए अंतर पैदा …