Delhi

छात्रों के आत्महत्या के मामलों को रोकने के लिए शीघ्र उठाए जाएं कड़े कदम- अभाविप

छात्रों के आत्महत्या के मामलों को रोकने के लिए शीघ्र उठाए जाएं कड़े कदम- अभाविप

New Delhi, 3 सितंबर . आईआईटी दिल्ली में Friday को एक student के खुदकुशी करने के बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) ने कहा है कि हम इससे बहुत व्यथित हैं. दो महीने के भीतर आईआईटी दिल्ली में यह student द्वारा आत्महत्या किए जाने का दूसरा मामला है. परिषद की तरफ से कहा गया कि देश के प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थानों में पढ़ने वाले व शहरों में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों की आत्महत्या की बढ़ती घटनाएं अत्यंत दुखद है. केंद्र सरकार, राज्य सरकारों, शैक्षणिक संस्थानों में विभिन्न हितधारकों आदि से इस समस्या के समाधान की दिशा में जल्द कदम उठाए.

  ‘स्व’ की पहचान से छात्राएं पा सकती हैं मंजिल : बबीता फोगाट

परिषद की तरफ से कहा गया कि आठ महीने में अकेले kota शहर में ही 23 छात्रों द्वारा आत्महत्या किए जाने की घटनाएं सामने आई हैं. कई महीनों से केंद्रीय विद्यालयों, आईआईटी आदि संस्थानों में पढ़ाई के दबाव व अन्य कारणों से छात्रों द्वारा आत्महत्या किए जाने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. इसे रोकने के लिए कड़े कदम उठाने होंगे. इससे पहले अभाविप की मई, 2023 में Pune में सम्पन्न हुई राष्ट्रीय कार्यकारी परिषद में इस समस्या को प्रमुखता से उठाते हुए शैक्षणिक परिसरों को तनावमुक्त बनाने और जीवंत शिक्षा केंद्र के रूप में विकसित करने का आह्वान किया गया था.

  दिल्ली को मिली 400 नई इलेक्ट्रिक बसों की सौगात

साथ ही इस दौरान आनंदमय सार्थक student जीवन के केंद्र में बने परिसर शीर्षक वाले प्रस्ताव को पारित कर मांग की गई थी कि विद्यार्थियों के शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य के लिए कदम उठाए जाएं. अंत में अभाविप ने मांग की है कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएं.

  विश्व हृदय दिवस के मौके पर द्वारका में वॉकथॉन का किया गया आयोजन

/ अश्वनी

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Most Popular

To Top

ताजा खबरों के लिए हमारा ग्रुप ज्‍वाइन करें


This will close in 0 seconds