Saturday , 27 February 2021

सुभाष चन्द्र बोस 125वीं जयन्ती : गुजरात के हरिपुरा में लोक कला प्रस्तुतियों ने मन मोहा

हरिपुरा, सूरत (Surat). नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की 125 वीं जयन्ती के अवसर पर पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र उदयपुर (Udaipur) की ओर से हरिपुरा में आयोजित राष्ट्रीय स्तर के समारोह में लोक कलाकारों की कला प्रस्तुतियों के भारत की अनूठी संस्कृति का रंग जमाया. जिसमें गुजरात (Gujarat) के डांग व वसावा आदिवासी कलाकारों ने अपनी परंपरानुसार नृत्य प्रदर्शन किया वहीं छत्तीसगढ़ की पण्डवानी शैली में दुशासन वध और भगवान श्रीकृष्ण के विराट रूप् को कलाकार पूजा ने बखूबी अभिनीत किया.

गुजरात (Gujarat) का हरिपुरा गांव स्वाधीनता आंदोलन को गवाह रहा है. तत्कालीन कांग्रेस के सन् 1951 के अधिवेशन में नेताजी सुभाषचन्द्र बोस इस गांव में आये और उन्हें अध्यक्ष चुना गया. इसी गांव में नेता जी की आदमकद प्रतिमा स्थापित की गई जहां 51 बैल गाड़ियों की रैली से पुरानी दिनों की याद को ताजा कर दिया.

  किडनी से डेढ़ किलो वजनी गांठ निकाली

इस अवसर पर केन्द्र द्वारा युवकसेवा एवं सांस्कृतिक प्रवृत्ति विभाग के सहयोग से आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में गुजरात (Gujarat) और छत्तीसगढ़ के कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियाँ दी. कार्यक्रम की शुरूआत गणेश वंदना से हुई. इसके बाद गुजरात (Gujarat) के वसावा जनजाति के कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति से दर्शकों को रोमांचित कर दिया. राजपीपला के राजू भाई वसावा व उनके साथियों ने अपनी प्रस्तुति से समां सा बाध दिया. गुजरात (Gujarat) के ही डांग जिले के डांगी आदिवासी कलाकारों ने इस अवसर पर डांग नृत्य की प्रस्तुति से मन मोह लिया.

  दोनों घुटने बदलकर महिला के टेड़े पैर सीधे किए

कलाकारों ने ढोलकी थाप और सरनाई के सुरों के साथ सुंदर पिरामिड की रचना कर दर्शकों की तालियां बटोरी.
कार्यक्रम में दर्शक उस समय भावातिरेक हो उठे जब छत्तीसगढ़ की पण्डवानी गायिका पूजा ने पण्डवानी कथा शैली में अपने अभिनय से भगवान कृष्ण का विराट रूप दर्शाया. प्रस्तुति में गायन, वादन और अभिनय भाव भंगिमाओं का मिश्रण उत्कृष्ट बन सका. पूजा व उनके दल ने महाभारत के दुशासन वध का प्रसंग रोचक अंदाज में प्रस्तुत किया.

इस अवसर पर राज्य स्तर आयोजित कार्यक्रम में गुजरात (Gujarat) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी, सांसद (Member of parliament) ईश्वर भाई परमार, माननीय विधायक गण उपस्थित थे. मुख्यमंत्री (Chief Minister) रूपाणी ने नेताजी की की प्रतिमा को सूत्र माला धारण करवाई.

  हिन्दुस्तान जिंक की सखी परियोजना के तहत ऋण वितरण कार्यक्रम

नंदलाल बोस की कृतियों की प्रदर्शनी

हरिपुरा (सूरत (Surat))23 जनवरी. नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की 125वीं जयन्ती के अवसर पर हरिपुरा के नेताजी सुभाषचन्द्र बोस ऑडीटोरियम में भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के नेशनल गैलेरी ऑफ मार्डन आट् की ओर से देश के जानेमाने चित्रकार नंदलाल बोस द्वारा सृजित चित्रों की प्रदर्शनी का आयोजन किया गया. गुजरात (Gujarat) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया. प्रदर्शनी में बोस द्वारा हरिपुरा के ग्रॉय जनजीवन के मनोरम चित्र प्रदशर््ाित किये गये हैं.

 

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *