बारिश ने मौसम में घोली ठंडक, राजधानी भोपाल में अचानक बदला मौसम, काले बादलों ने डाला डेरा


भोपाल. राजधानी भोपाल में मंगलवार सुबह अचानक मौसम ने करवट ली और कुछ इलाकों में बारिश हुई. इससे मौसम में ठंडक भी आ गई. साथ ही काले बादलों के डेरे ने चारों तरफ अंधेरा फैला दिया. अमूमन यही हाल प्रदेश के अन्य स्थानों का भी रहा. मौसम विभाग की माने तो अगले दो दिनों तक प्रदेश के हिस्सों में बारिश हो सकती हैं. कुछ स्थानों पर गरज-चमक के साथ छींटे पड़ सकते हैं.

बारिश के साथ चली हल्की हवाओं से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है. दोपहर में राजधानी भोपाल में 5 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. सोमवार को तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई थी, जो मंगलवार सुबह तक बनी रही. इसके बाद अचानक मौसम बदला और आसमान पर घने बादल छा गए. इसी के साथ कई इलाकों में हल्की बारिश हुई. बैरागढ़ सहित पुराने भोपाल एमपी नगर, आनंद नगर में करीब आधा घंटे तक तेज बारिश हुई. वहीं नए भोपाल में हल्की बूंदाबांदी हुई. मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि भोपाल सहित इंदौर, उज्जैन, दतिया और ग्वालियर में भी कोहरा छाया रहा तथा बाद में बौछारें भी पड़ी. मौसम विभाग के अनुसार, बुधवार भी हल्की वर्षा हो सकती है.

  गणतंत्र दिवस: समावेशी, समृद्ध, प्रगतिशील और सद्भावनापूर्ण भारत का निर्माण हो सके: नायडू

-बैतूल सबसे ठंडा

प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री बैतूल में रिकॉर्ड हुआ. भोपाल में भी रात का पारा 14.6 डिग्री पर टिका रहा. यह सामान्य से 4.2 डिग्री अधिक है. रायसेन में 8.2, ग्वालियर में 12.0, इंदौर में 15.1, छिंदवाड़ा 10.9, जबलपुर 12.0, सीधी 8.6 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटों में भोपाल संभाग के जिलों में तथा गुना, अशोकनगर, खंडवा, खरगोन,धार, इंदौर उज्जैन एवं देवास जिलों में गरज चमक के साथ हल्की वर्षा तथा ग्वालियर, चंबल एवं सागर संभागों के जिलों और इंदौर, उज्जैन, रतलाम एवं शाजापुर के जिलों में मध्यम से घना कोहरा भी रह सकता है.

  प्रेस्टीज समूह के संस्थापक डॉ. नेमनाथ जैन को पद्मश्री सम्मान

Check Also

ट्रेन से कटकर बच्चे समेत महिला की मृत्यु

औरैया. जिले के दिवियापुर क्षेत्र में मंगलवार की सुबह दिल्ली-कोलकाता रेलमार्ग पर कहिंजरी व गपकापुर …