छह प्रस्तावों के साथ 16वां दाऊदी बोहरा विश्व सम्मलेन सम्पन्न, CAA के खिलाफ भी प्रस्ताव पास किया

उदयपुर. उदयपुर में 14 फ़रवरी से चल रहे तीन दिवसीय 16वां दाऊदी बोहरा विश्व सम्मलेन में बोहरा सुधारवादी आंदोलन की भविष्य की रुपरेखा तैयार करने के अलावा समाज और देश की ज्वलंत समस्याओं और अन्य सामाजिक-राजनैतिक कुरीतियों के विरुद्ध छह प्रस्ताव पारित किये गए. जबकि सेंट्रल बोर्ड ऑफ दाऊदी बोहरा कम्युनिटी की कार्यकारिणी के चुनाव के साथ सम्मेलन का समापन हुआ. इस विश्व सम्मेलन के साथ ही बोहरा सुधारवादी आंदोलन के विगत दो वर्षीय स्वर्ण जयंती समारोह का भी समापन हुआ.

सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ दाऊदी बोहरा कम्युनिटी के चेयरमेन कमांडर मंसूर अली बोहरा ने वक़्फ़ बोर्ड से वक़्फ़ सम्पतियो से रखरखाव, सम्पतियो को सुरक्षित और संरक्षित रखने, वक़्फ़ सम्पतियो का दुरूपयोग रोकने हेतु प्रस्ताव पास किया. जिसका सम्मलेन में मौजूद लोगो ने सर्वसम्मति से पास किया.

महिला सशक्तिकरण और महिला अधिकार को लेकर इस्लाम और पवित्र ग्रंथ क़ुरआन में महिलाओ को जो अधिकार दिए गए है उन अधिकारों के प्रति महिलाओ को जागरूक करना और महिलाओ को बराबरी का दर्जा दिलवाना और उनके अधिकार की रक्षा के सुधारवाद आंदोलन की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए दूसरा प्रस्ताव रखा जिसका सम्मलेन में सर्वसम्मति से पास किया गया.

इसी प्रकार माननीय सुप्रीम कोर्ट से आग्रह किया गया की 1986 से आज लगभग 35 साल तक लंबित सामाजिक बहिष्कार के केस की रिव्यू पिटीशन की अतिशीघ्र सुनवाई कर मामले का निपटारा करे ताकि सुधारवादियों समेत प्रत्येक समाज की वंचित वर्ग (जिन पर सामाजिक बहिष्कार की तलवार लटकी हुई है) उन्हें स्वतंत्र भारत में इंसाफ मिल सके एवं समाज की मुख्यधारा में शामिल होकर अपना जीवन सम्मानपूर्वक बिता सके. इस आशय का प्रस्ताव भी सम्मेलन में पारित किया गया.

  महिलाएं लंबी टांगों वाले पुरुषों पर मरती हैं ज्यादा

देश में सामाजिक सदभाव, समरसता, उंच नीच, भेदभाव और धर्म निरपेक्ष मूल्यों को बनाये रखने हेतु सांप्रदायिक सौहार्द्र को कायम रखना और विभिन्न धर्मो और समाज के लोगो के बीच सामंजस्य और वार्तालाप स्थापित करने के लिए लगातार प्रयत्नशील रहने के लिए भी सम्मलेन में प्रस्ताव पास किया गया.

52वे धर्मगुरु सैय्यदना मोहम्मद बुरहानुद्दीन साहब के निधन के सैय्यदना मुफद्दल साहब और सैय्यदना ताहेर फखरुद्दीन साहब के बीच दाई (धर्मगुरु) के पद पर मुंबई हाईकोर्ट में चल विवाद समाप्त करने और दोनों पक्षों को बातचीत कर विवाद सुलझाने की अपील करते हुए प्रस्ताव पास किया गया की दोनो पक्ष अपने विवाद सुलझाए. प्रस्ताव में सम्पूर्ण बोहरा समाज को इस विवाद के चलते होने वाले नुक्सान से बचाने, कौम में बंटवारा और विवाद की स्थिति से बचाने की अपील की.

इसी प्रकार अंत में वर्तमान में देश में चल रहे CAA के खिलाफ भी प्रस्ताव पास किया गया. प्रस्ताव में CAA को देश की साम्प्रदायिक ताने बाने को नुक्सान देह बताते हुए इसे अनावश्यक करार दिया गया. प्रस्ताव में केंद्र सरकार से CAA को वापिस लेने का आग्रह किया गया.

  कोरोना के चलते उबर और फ्लिपकार्ट ने मिलाया हाथ

सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ दाऊदी बोहरा कम्युनिटी के चुनाव

सम्मलेन के आखिरी दिन सुधारवादी बोहरा की सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ दाऊदी बोहरा कम्युनिटी के चुनाव सम्पन्न करवाए गए. जिसमे संरक्षक के पद पर समाज के सम्मानीय और वरिष्ठ नेता आबिद हुसैन अदीब को, चेयरमैन के पद पर कमांडर मंसूर अली बोहरा (उदयपुर, राजस्थान) जनरल सेक्रेटरी के पद पर डॉ इरफ़ान अली इंजीनियर (मुंबई, महाराष्ट्र), वाईस चेयरमेन के पद पर श्रीमती रज़िया सनवाड़ी (उदयपुर, राजस्थान), शौकत अजमेरी (कनाडा) और डॉ शुजात वली (गोधरा, गुजरात) एवं कोषाध्यक्ष के पद पर यूनुस बालूवाला (मुंबई, महाराष्ट्र) को निर्विरोध चुना गया.

इसके अतिरिक्त कार्यकारिणी में उदयपुर, राजस्थान से चालीस सदस्य, हैदराबाद से पांच, उज्जैन (मध्यप्रदेश) से दो, राजकोट (गुजरात) से दो, कुवैत से तीन, ओमान से दो, अमेरिका से दो, कनाडा, यूएई औरर सूरत (गुजरात) से एक एक सदस्य को चुना गया. चुनाव कन्वीनर याकूब अली ज़हीर ने नई कार्यकारिणी को माला पहनाकर उपस्थित जनसमूह के सामने शपथग्रहण करवाई.

तीसरे दिन भी फोटो प्रदर्शनी ने लोगो को अपनी ओर खींचा

सम्मलेन के दुसरे दिन जमातखाना में सुधारवाद और बोहरा युथ आंदोलन के संघर्ष पर आधारित फोटो एक्ज़ीबिशन ने लोगो को अपनी ओर आकर्षित किया. प्र्दशनी ने आंदोलन और संघर्ष को तस्वीरो को पुनर्जीवित कर दिया. लोगो ने खासकर युवाओ में प्रदर्शनी को लेकर ख़ासा उत्साह नज़र आया.

  एक्टर पूरब कोहली की पूरी फैमिली कोरोना

दाऊदी बोहरा जमात के प्रवक्ता मंसूर अली ओड़ा वाला ने बताया की बोहरा सुधारवादी आंदोलन की भविष्य की रुपरेखा तैयार करने के अलावा समाज और देश की ज्वलंत समस्याओं और अन्य सामाजिक-राजनैतिक कुरीतियों के विरुद्ध छह प्रस्ताव और सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ दाऊदी बोहरा कम्युनिटी के चुनाव और नई करीजारिणी के शपथ ग्रहण के साथ ही सम्मलेन के विधिवत घोषणा की गई.

सम्मलेन के कन्वीनर अनीस मियांजी ने अंत में सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ दाऊदी बोहरा कम्युनिटी (CBDBC), दाऊदी बोहरा जमात, बोहरा युथ संस्थान, बोहरा यूथ गर्ल्स विंग की समस्त कार्यकारिणी, सम्मलेन के वॉलिंटियर्स, फोटो एक्ज़ीबिशन कमेटी के साथ साथ जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, नगर निगम उदयपुर, यातायात पुलिस, प्रेस और मीडिया को धन्यवाद देते हुए कहा की इन सबके भरपूर सहयोग के बिना इतना बड़ा आयोजन  नामुमकिन था. वहीँ सूरत से कॉन्फ्रेंस में भाग लेने आये ज़ेहरा बेन साईकिल वाला, उज्जैन से कासिम अली, कनाडा से शौकत अजमेरी आदि ने कॉन्फ्रेंस के सफल आयोजन के लिए आयोजकों का धन्यवाद भी दिया.

इस अवसर पर दाऊदी बोहरा जमात के पदाधिकारियों अध्यक्ष फैय्याज हुसैन इटारसी और सचिव ज़ाकिर हुसैन पंसारी ने भी कॉन्फ्रेंस के सफल आयोजन के लिए कन्वीनर अनीस मियाजी और उनकी टीम को बधाई दी.

Check Also

लॉकडाउन के चलते दिल्ली में नहीं मिली एंबुलेंस, पुलिस वैन में बच्ची जन्मी

नई दिल्ली (New Delhi) . पूरे भारत में कोरोना (Corona virus) के चलते लॉकडाउन (Lockdown) …