Saturday , 23 October 2021

किसानों के भारत बंद का असर, जाम हुआ दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे

नई दिल्ली (New Delhi) . तीन नए कृषि कानूनों के एक साल पूरा होने के मौके पर किसानों की ओर से बुलाए गए भारत बंद का बड़ा असर देखने को मिल रहा है. इसके चलते एक तरफ दिल्ली की सीमाओं पर भीषण ट्रैफिक जाम लग गया है तो वहीं कई शहरों में ट्रेनें भी थम गई हैं. दिल्ली से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) को जोड़ने वाला गाजीपुर बॉर्डर किसान आंदोलनकारियों ने जाम कर दिया है. इसके चलते दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Police) ने इस रूट पर चलने वाले वाहनों को वैकल्पिक मार्गों से जाने की सलाह दी है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Police) ने ट्वीट कर बताया है कि नेशनल हाईवे 9 और नेशनल हाईवे 24 दोनों ओर से किसान आंदोलन के चलते बंद कर दिया गया है. यूपी से आने वाले और इस रास्ते से यूपी जाने वाले लोगों को इस रूट की बजाय दूसरे रास्तों से गुजरना चाहिए. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Police) ने सलाह दी है कि यूपी से आने और जाने वाले लोगों को डीएनडी, विकास मार्ग, सिग्नेचर ब्रिज, वजीराबाद रोड आदि रास्तों से गुजरना चाहिए. यूपी से गाजीपुर बॉर्डर आ रहे वाहनों को फिलहाल दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Police) की ओर से महाराजपुर बॉर्डर, अप्सरा बॉर्डर और भोपुरा बॉर्डर से गुजरने की सलाह दी गई है.

  ईधन की मांग बढ़ने के बाद रिफाइनरी 100 फीसदी क्षमता के साथ चलेंगी

किसानों ने भारत बंद के तहत सोमवार (Monday) को सुबह 6 बजे से ही दिल्ली-मेरठ (Meerut) एक्सप्रेसवे की ऊपर वाली लेन को जाम कर दिया था. किसानों का कहना है कि वह शाम को 4 बजे तक इस रास्ते को खोल देंगे. तब तक अपनी मौजूदगी दर्ज कराने के लिए उन्होंने यह किया है. गाजियाबाद (Ghaziabad) पुलिस (Police) के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली से आने वाले ट्रैफिक को परेशानी झेलनी पड़ रही है. फिलहाल ईडीएम मॉल, आनंद विहार और सूर्या नगर के पास से गाड़ियां गाजियाबाद (Ghaziabad) आ रही हैं. संयुक्त किसान मोर्चा के बैन तले किसान बीते साल अक्टूबर से ही आंदोलन कर रहे हैं. किसानों की मांग है कि तीन नए कृषि कानूनों को रद्द किया जाए और एमएसपी की गारंटी देने वाला एक कानून बनाया जाए. किसानों ने अब तीन नए कृषि कानूनों को लागू किए जाने के एक साल पूरा होने के मौके पर भारत बंद बुलाया है. किसान मोर्चा के प्रवक्ता और यूपी गेट पर आंदोलन कर रहे जगतार सिंह बाजवा ने ने कहा, ‘हमारे समर्थक सुबह 6 बजे से ही दिल्ली-मेरठ (Meerut) एक्सप्रेसवे की लेन पर बैठे हैं. इसे हम शाम को 4 बजे तक खाली कर देंगे. हालांकि हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि किसी भी आपातकालीन वाहन को न रोका जाए.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *