दहेज प्रताडना के आरोपी पति सास-ससुर, देवर को दो साल की सजा

श्योपुर विजयपुर कोर्ट की जेएमएफसी अदालत के द्वारा सोमवार को दहेज के एक प्रकरण में फैसला सुनाया गया. जिसमें आरोपी पति, सास-ससुर व देवर को दो साल की सजा सुनाई गई. जबकि उन पर 500-500 रुपए का अर्थदंड भी किया गया. मामले में शासन पक्ष से पैरवी एडीपीओ एसएस मावई ने की.
एडीपीओ एसएस मावई ने बताया कि विजयपुर निवासी गुड्डी बाई ने विजयपुर थाने में शिकायत दर्ज कराई कि, शादी के 6 माह बाद ओछापुरा निवासी पति सियाराम रावत, ससुर मुन्ना रावत, सास चंद्रकला बाई व देवर जयराम रावत ने उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरु कर दिया और सास-ससुर ने खाना देना भी बंद कर दिया. जबकि दहेज में एक बाइक व 50 हजार रुपए की मांग कर उसे घर से निकाल दिया. पुलिस ने मामले में चालान विजयपुर की जेएमएफसी अदालत में पेश किया. जहां अदालत ने साक्ष्यों के आधार पर उक्त आरोपियों को दोषी करार देते हुए आईपीसी की धारा 498ए में 2-2 साल का कठोर कारावास व 500-500 रुपए का जुर्माना किया.

  दिनदहाड़े अज्ञात कारणों के चलते एक युवक की चाकू मारकर हत्या

Check Also

चौथी मंजिल से गिरी छात्रा ने अस्पताल मे तोडा दम

भोपाल. राजधानी के शाहजहांनाबाद इलाके में चौथी मंजिल से गिरकर एक छात्रा की मौत हो …