Thursday , 21 October 2021

विश्व पर्यटन दिवस पर केन्द्रीय पर्यटन विभाग का राष्ट्रीय वेबीनार; मेवाड़-वागड़ के नैसर्गिक सौंदर्य और फोटोग्राफी पर भी हुई चर्चा


उदयपुर (Udaipur). केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय के उत्तर क्षेत्रीय निदेशक अनिल आरव ने कहा है कि विविधताओं से भरे भारत के सौंदर्य को विश्व पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करने में फोटोग्राफर्स का अहम योगदान है ऐसे में केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय उभरते युवा फोटोग्राफर्स को प्रोत्साहित करने की मंशा रखता है.

आरव सोमवार (Monday) को विश्व पर्यटन दिवस के मौके पर केन्द्रीय पर्यटन विभाग और पृथ्वीराज फाउंडेशन, राजस्थान (Rajasthan) के तत्वावधान में ‘ट्रावेल फोटोग्राफी की तकनीक विषय पर आयोजित ऑनलाइन वेबीनार में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे.

इस मौके पर उन्होंने कहा कि उभरते युवा फोटोग्राफर्स को उचित मंच देने की आवश्यकता है इस दृष्टि से कॉलेज और विश्वविद्यालय स्तर की फोटोग्राफी प्रतियोगिताओं और प्रशिक्षण कार्यशालाओं का आयोजन करवाया जाएगा. इन प्रतियोगिताओं के बाद पर्यटन मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय स्तर की फोटोग्राफी प्रतियोगिता आयोजित होगी ताकि देशभर से नवीन पर्यटन स्थल प्रकाश में आए.

  वल्र्ड एनेस्थेसिया डे पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

एक्सपर्ट्स ने बताई फोटोग्राफी तकनीक: वेबीनार को संबोधित करते हुए अजमेर (Ajmer) के ख्यातनाम फ्रीलांस फोटोग्राफर दीपक शर्मा ने राजस्थान (Rajasthan) की भौगोलिक विविधताओं के बीच फोटोग्राफी की चुनौतियां और फोटोग्राफर्स के लिए अवसर विषय पर विस्तार से प्रकाश डाला. इसी प्रकार फोटोजर्नलिस्ट और ट्रावेलर-ब्लॉगर ताराचंद गवारिया ने हेरीटेज और लेंडस्केप फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी पर अपने अनुभवों को बताते हुए फोटोग्राफी तकनीक और इसके लिए की जाने वाली पूर्व तैयारियों, वेशभूषा व उपयुक्त संसाधनों की जरूरतों की जानकारी दी.

  आरएएस तैयारी के लिए मॉक टेस्ट 20 व 23 को

जनसंपर्क विभाग, उदयपुर (Udaipur) के उपनिदेशक व वाईल्ड लाईफ फोटोग्राफर डॉ. कमलेश शर्मा ने वाईल्ड लाईफ व बर्ड फोटोग्राफी के प्रोटोकॉल की जानकारी देते हुए इस तरह की फोटोग्राफी दौरान बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में विस्तार से बताया. फोटोग्राफर और ड्रोन एक्सपर्ट नदीम खान ने ड्रोन के माध्यम से की जाने वाली फोटोग्राफी की विशेषताओं का बताया और कहा कि विहंगम दृश्यों को क्लिक करने के लिए सधे हाथों से ड्रोन के संचालन में बड़े धैर्य की आवश्यकता रहती है.

  वल्लभनगर विधानसभा उपचुनाव 2021 : विधानसभा क्षेत्र में मतदान दिवस पर रहेगा अवकाश

देश-दुनिया से जुड़े फोटोग्राफर

वेबीनार दौरान इटली से रचना शर्मा और दिशा जांगिड़, मुंबई (Mumbai) से गिरिश बिंदल, दिल्ली से महेश त्रिपाठी, बड़ोदरा (गुजरात (Gujarat)) से पर्यटन शोधार्थी विरांच दवे, नागौर (Nagaur) से भानुप्रिया चौधरी, अजमेर (Ajmer) से संदीप पांडे, नीरज त्रिपाठी व अमित भाटी, जयपुर (jaipur)से जितेन्द्र सैनी सहित कई फोटोग्राफर्स ने वेबीनार के एक्सपर्ट्स से फोटोग्राफी तकनीकों पर प्रश्नों के माध्यम से जिज्ञासा शांत की.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *