किशोरी के थी गर्भाशय की नली में गांठ, दूरबीन से निकाली


उदयपुर. किशोरी के गर्भाशय की नली में गांठ का जीबीएच अमेरिकन हॉस्पीटल के स्त्री एवं प्रसूती रोग विभाग में दूरबीन से ऑपरेशन किया गया. कम उम्र में गर्भाशय की नली में गांठ होना असाधारण था, जिसका पिछले चार महीने से इलाज के दौरान भी पता नहीं चल पाया था.

जीबीच अमेरिकन हॉस्पीटल में पिछले दिनों चित्तौड़ से 14 वर्षीय किशोरी को पेट दर्द व माहवारी की समस्या लेकर परिजन स्त्री एवं प्रसूती रोग विशेषज्ञ डॉ. आकांक्षा त्रिपाठी के पास पहुंचे थे. परिजनों ने डॉ. त्रिपाठी को यह समस्या पिछले चार महीने से होने और अब तक कराए इलाज की भी जानकारी दी. यहां सोनोग्राफी कराने पर किशोरी के गर्भाशय की नली में 10 गुणा 7 गुणा 6 सेंटीमीटर की गांठ का पता चला. इसका यहां दूरबीन से ऑपरेशन किया गया. इसमें गांठ में भरा छह सौ मिली लीटर पानी निकाला गया और गांठ बाहर निकाली गई.

  मशनी पर वेट देखते समय रखे तीन बातों का ध्यान, बदलावों पर लगातार नजर रखना जरूरी

डॉ. त्रिपाठी ने बताया कि किशोरियों में कम उम्र में गर्भाशय की गांठ होना असाधारण है. आम तौर पर इस तरह की गांठ महिलाओं में होती है. इस गांठ के लगातार बढ़वार लेने पर इसके गर्भाशय में ही फूटने, इंफेक्शन फैलने और गांठ के घूमने का खतरा था. इस ऑपरेशन के 24 घंटे बाद किशोरी को हॉस्पीटल से डिस्चार्ज कर दिया गयां यह ऑपरेशन डॉ. आकांक्षा त्रिपाठी के साथ निश्चेतना विभाग के डॉ. पीयूष गर्ग ने किया.

  चाय-कॉफी पीने से घटता है वजन, फ्रेश रहने के साथ मोटापे से भी रहेंगे दूर

Check Also

सर्दियों में नारियल तेल से त्वचा को बनाये खूबसूरत

सर्दियों के मौसम में खुश्क हवाओं से हमारी त्वचा रुखी और बेजान होने लगती है. …