किशोरी के थी गर्भाशय की नली में गांठ, दूरबीन से निकाली


उदयपुर. किशोरी के गर्भाशय की नली में गांठ का जीबीएच अमेरिकन हॉस्पीटल के स्त्री एवं प्रसूती रोग विभाग में दूरबीन से ऑपरेशन किया गया. कम उम्र में गर्भाशय की नली में गांठ होना असाधारण था, जिसका पिछले चार महीने से इलाज के दौरान भी पता नहीं चल पाया था.

जीबीच अमेरिकन हॉस्पीटल में पिछले दिनों चित्तौड़ से 14 वर्षीय किशोरी को पेट दर्द व माहवारी की समस्या लेकर परिजन स्त्री एवं प्रसूती रोग विशेषज्ञ डॉ. आकांक्षा त्रिपाठी के पास पहुंचे थे. परिजनों ने डॉ. त्रिपाठी को यह समस्या पिछले चार महीने से होने और अब तक कराए इलाज की भी जानकारी दी. यहां सोनोग्राफी कराने पर किशोरी के गर्भाशय की नली में 10 गुणा 7 गुणा 6 सेंटीमीटर की गांठ का पता चला. इसका यहां दूरबीन से ऑपरेशन किया गया. इसमें गांठ में भरा छह सौ मिली लीटर पानी निकाला गया और गांठ बाहर निकाली गई.

  महिला व पुरुष एक दूसरे के पूरक:- एडवोकेट ऐश्वर्या भाटी

डॉ. त्रिपाठी ने बताया कि किशोरियों में कम उम्र में गर्भाशय की गांठ होना असाधारण है. आम तौर पर इस तरह की गांठ महिलाओं में होती है. इस गांठ के लगातार बढ़वार लेने पर इसके गर्भाशय में ही फूटने, इंफेक्शन फैलने और गांठ के घूमने का खतरा था. इस ऑपरेशन के 24 घंटे बाद किशोरी को हॉस्पीटल से डिस्चार्ज कर दिया गयां यह ऑपरेशन डॉ. आकांक्षा त्रिपाठी के साथ निश्चेतना विभाग के डॉ. पीयूष गर्ग ने किया.

  5 वर्षीय नन्हे कलाकार ने मानवता की रक्षा के लिए दुआ मांगी, रोजे भी रखें

Check Also

महाराणा प्रताप की जयंती पर आयोजित ईं ऑनलाइन चित्रकला प्रतियोगिता

उदयपुर (Udaipur). नगर निगम उदयपुर (Udaipur) की ओर से आज महाराणा प्रताप की जयंती पर …