राज्य सरकार की दूसरी वर्षगांठ पर लोगों को राहत मिले यही सरकार की मंशा : खाचरियावास

उदयपुर (Udaipur). प्रदेश के परिवहन एवं सैनिक कल्याण व जिला प्रभारी मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा है कि जनकल्याण व राहत के लिए सरकार ने बहुत सारी योजनाएं चला रखी है, इनकी जानकारी सबको हो और इसका लाभ नीचे तक पहुंचे, यही सरकार की मंशा है. प्रभारी मंत्री खाचरियावास वर्तमान राज्य सरकार (State government) के कार्यकाल के दो वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में रविवार (Sunday) को जिला परिषद सभागार में आयोजित विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक व जिला दर्शन पुस्तिका विमोचन समारोह को संबोधित कर रहे थे.

जिला प्रभारी सचिव तथा स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रीमती अपर्णा अरोड़ा की मौजूदगी में आयोजित हुई बैठक का शुभारंभ करते हुए जिला कलक्टर (District Collector) चेतन देवड़ा ने जिले की समग्र वैकासिक प्रगति की जानकारी दी और एक-एक कर विभागों द्वारा गत दो वर्षों में अर्जित उपलब्धियों पर प्रकाश डाला. बैठक के दौरान प्रभारी मंत्री ने विगत दो वर्षों मे विभिन्न विभागों द्वारा करवाए गए अथवा संचालित विकास कार्यों, विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति एवं अब तक की प्रगति पर विभागवार समीक्षा कर महत्त्वपूर्ण निर्देश दिए. इस दौरान जिला पुलिस (Police) अधीक्षक कैलाशचंद्र विश्नोई, सीईओ डॉ. मंजू, एडीएम ओपी बुनकर व संजय कुमार, यूआईटी सचिव अरूण हसीजा, नगर निगम आयुक्त हिम्मतसिंह बारहठ, एसीईओ शैलेश सुराणा सहित समस्त विभागीय अधिकारी मौजूद थे.

  देश में पहली बार पेट्रोल 97.50 रूपए लीटर, राजस्थान में पेट्रोल की कीमत 100 के करीब

पीडि़त को रास्ता बता दो, काफी है: बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि कार्यालयों में पेंशन योजनाओं का लाभ लेने, प्रमाण पत्र बनवाने या और कोई छोटे-मोटे काम के लिए आने वाले लोगों को विभागीय योजना का लाभ दिलाने के लिए एक खिड़की बनानी चाहिए जहां पर मौजूद व्यक्ति उसकी समस्या के समाधान कर सके. उन्होंने कहा कि किसी भी पीडि़त को उसकी समस्या के समाधान का रास्ता बता दो तो इससे बड़ा पुण्य का कार्य कोई नहीं है. प्रभारी मंत्री ने यह भी कहा कि जनसमस्याओं के समाधान के लिए यदि किसी अधिकारी-कर्मचारी के पास कोई और भी सुझाव हो तो उसके बारे में जानकारी दें ताकि उस पर कार्यवाही हो सके.

  पांचवें दिन कोरोना वैक्सीनेशन पहुंचा 70.59 फीसदी, राजस्थान में 24 घंटे में डबल हुई टीकाकरण की संख्या

जयपुर (jaipur)में लागू होंगी उदयपुर (Udaipur) की योजनाएं: बैठक दौरान कलक्टर ने जनता के कार्यों को घर पर बैठकर सुलझाने के लिए यूआईटी आपके द्वार कार्यक्रम तथा नगर निगम द्वारा सोलिड वेस्ट मेनेजमेंट के लिए तैयार संयत्र के बारे में जानकारी दी तो प्रभारी मंत्री खासे प्रसन्न हुए और उन्होंने इन दोनों कार्याें को जयपुर (jaipur)में प्रारंभ करवाने की बात कही.

कोविड प्रबंधन व वेक्सीन तैयारियों को सराहा: बैठक में प्रभारी मंत्री ने जिले के कोविड के प्रबंधन, ऑनलाईन सूचनाओं की उपलब्धता के लिए तैयार वेबसाईट, रोगियों को मोबाईल पर सूचना देने, हर वार्ड में इंसीडेंट कमांडर्स लगाने, सेंपलिंग में बढ़ोत्तरी व ब्लॉकवार सूचना के संकलन के साथ ही वैक्सीन की तैयारियों के लिए जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयासों की तारीफ की.

संवेदनशील बनें अधिकारी: बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि अधिकारी जनसमस्याओं के निवारण और विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन प्रति संवेदनशील बने. उन्होंने जिला कलक्टर (District Collector) चेतन देवड़ा से कहा कि जो अधिकारी विभागीय समीक्षा बैठकों में मौजूद न रहे उनकी सूचना सीएस को दें तो कार्यवाही की जाएगी.

  राष्ट्रसंत ललितप्रभ जी के जन्म दिन पर संबोधि धाम में आयोजित हुआ पार्श्व पद्मावती महापूजन

एमआरआई मशीन तत्काल लगाने के निर्देश : चिकित्सा विभागीय समीक्षा दौरान कलक्टर देवड़ा ने प्रभारी मंत्री को आरएनटी में एमआरआई मशीन की आवश्यकता जताई तो प्रभारी मंत्री ने तत्काल ही इसकी खरीद कर लगाने के निर्देश दिए. कलक्टर ने बताया कि डीएमएफटी के तहत प्रस्ताव तैयार कर लिए गए है, शीघ्र ही मशीन स्थापित कर दी जाएगी. मंत्री ने सीएम दवा व जांच योजना की प्रगति पर भी समीक्षा की और जरूरतमंद लोेगों को इसका लाभ दिलाने पर जोर दिया.

पुराने प्रकरणों का भुगतान करवाओ: बैठक में प्रभारी सचिव श्रीमती अपर्णा अरोड़ा ने आयुष्मान भारत योजना की प्रगति की समीक्षा कर पुराने लंबित प्रकरणों के निस्तारण करने व समय पर भुगतान के लिए स्वीकृति में देरी की वजह पता लगाने व इसके कारण आ रही समस्याओं के त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *